Advertisement

इस पूर्व क्रिकेटर का मानना है कि अब धोनी का विकल्प खोज ही लेना चाहिए

1:40 pm 7 Nov, 2017

Advertisement

टीम इंडिया के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की टीम में मौजूदगी पर सवाल खड़े हो रहे हैं। सवाए उठ रहे हैं कि क्यों नहीं धोनी को अब रिटायर होना चाहिए और नई प्रतिभा को मौका मिलना चाहिए।

इस तरह के सवाल दूसरे टी-20 में न्यूजीलैंड के हाथों टीम इंडिया को मिली पराजय के बाद अधिक पूछे जा रहे हैं। दरअसल, इस मैच में एम एस धोनी 9.1 ओवर में कप्तान विराट कोहली का साथ देने के लिए मैदान पर उतरे थे। उस वक्त टीम इंडिया का स्कोर 67/4 था और ये बैट्ममैन 197 के स्कोर का पीछा कर रहे थे। इस दौरान दिखा कि कोहली तो अपनी लय खेल रहे थे, लेकिन धोनी का खेल अपने पुराने रिकॉर्ड से कहीं मेल नहीं खा रहा था। यही वजह है कि अब पुराने दिग्गज खिलाड़ी इस बात की चर्चा करने लगे हैं कि टीम इंडिया को अब धोनी का विकल्प जल्द ही खोज लेना चाहिए।

अजीत अगरकर और वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज खिलाड़ियों ने यही सवाल उठाया है।

इस रिपोर्ट में अजीत अगरकर के हवाले से बताया गया है कि टी-20 में अब भारत को और विकल्पों के बारे में सोचना चाहिए। अगरकर ने एम एस धोनी के टी-20 फरफॉर्मेंस पर खुलकर बात की।

वहीं, पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण भी अगरकर से इत्तेफाक रखते हैं। लक्ष्मण भी इसी पक्ष में हैं कि अब धोनी को स्थान खाली करना चाहिए और युवा खिलाड़ियों को मौका देना चाहिए।

यह पहली बार नहीं है, जब टीम इंडिया में धोनी की मौजूदगी पर सवाल उठाए जा रहे हैं। इससे पहले पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने भी धोनी की कमजोर परफॉर्मेन्स को लेकर सवाल उठाए थे।


Advertisement

पिछले दिनों एक साक्षात्कार के दौरान गांगुली ने कहा था कि उन्हें नहीं लगता महेंद्र सिंह धोनी एक अच्छे टी-20 खिलाड़ी हैं। गांगुली यहां तक कह गए थे कि धोनी ने पिछले 10 सालों में सिर्फ एक अर्धशतक लगाया है।

धोनी ने इस साल 79 के एवरेज से 20 मैचों में 15 इनिंग में 632 रन बनाए हैं।

हालांकि, बीच-बीच में धोनी के परफॉर्मेन्स के चर्चे होते रहे हैं। यहां तक कि उन्हें अब भी टीम इंडिया का एक फिट खिलाड़ी माना जाता है।

यह अलग बात है कि उनका बल्ला नहीं चल रहा है। यही वजह है कि वह अब अपने पुराने साथियों के निशाने पर आ गए हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement