Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

80 फीसद बच्चों ने प्राइवेट स्कूल छोड़कर लिया इस सरकारी स्कूल में दाखिला!

Published on 13 August, 2017 at 6:52 pm By

देश में सरकारी स्कूलों को लेकर जो अभिभावकों की धारणा है वो किसी से छुपी नहीं है। वे अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाना चाहते हैं। फिर चाहे इसके लिए कितना भी पैसा उन्हें स्कूलों को देना हो, लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में एक ऐसा स्कूल है, जो अच्छे से अच्छे प्राइवेट स्कूल को मात दे रहा है।

हम बात कर रहे हैं रोहिणी सेक्टर-21 फेज 3 के गवर्नमेंट सर्वोदय को-एड विद्यालय की। इसी साल अप्रैल में बनकर तैयार हुए इस सरकारी स्कूल में 80 प्रतिशत बच्चे प्राइवेट स्कूलों को छोड़कर आए हैं।



यहां तक कि 11वीं क्लास में 99 फीसद दाखिले प्राइवेट स्कूलों से आए बच्चों के हुए हैं। स्कूल के शुरू होने के करीबन साढ़े तीन महीने के अंतराल में ही अब तक यहां करीबन 1200 बच्चों का एडमिशन हो चुका है। यहां पर नर्सरी से लेकर 12वीं क्लास तक के बच्चों के दाखिले हुए हैं।

यह स्कूल इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में किसी भी प्राइवेट स्कूल को पटखनी देता हुआ दिख रहा है। बच्चों की यूनिफॉर्म के डिज़ाइन का भी खास ख्याल रखा गया है। स्कूल में कंप्यूटर लैब व लाइब्रेरी की भी व्यवस्था है। वहीं स्कूल में सीसीटीवी लगाने, वॉटर कूलर, साइकल स्टैंड, बॉस्केटबॉल कोर्ट बनाने समेत कई अहम प्रपोजल भी प्राप्त हो रहे हैं।

school

ये है स्कूल का ऑडिटोरियम thelogicalindian


Advertisement

इस स्कूल में जो सुविधाएं दी गई हैं, यही कारण है कि अभिभावक अपने बच्चों का दाखिला इस स्कूल में करा रहे हैं। बच्चों के परिजनों को इस बात की खुशी  है कि बच्चों को कम फीस में अच्छी शिक्षा मिल रही है। वाकई यह स्कूल देश के बाकी सरकारी स्कूलों के लिए एक मिसाल बनकर उभर रहा है।

Advertisement

नई कहानियां

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं


नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं

नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं


मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक

मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक


PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!

PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!


अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?

अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Education

नेट पर पॉप्युलर