शर्मनाक! गैंगरेप पीड़िता होने की वजह से स्कूल ने एडमिशन देने से किया मना

6:45 pm 19 Oct, 2018

Advertisement

हमारा देश भी अजीब है जो गुनाह करता है वो सिर उठाकर चलता है और पीड़ित को ज़िंदगीभर सजा भुगतनी पड़ती है। देहरादून में एक रेप पीड़िता लड़की के साथ जो हुआ वो हमारे समाज की घटिया सोच को दर्शाता है। देहरादून में दसवीं कक्षा की एक लड़की को स्कूल ने ये कहते हुए एडमिशन नहीं दिया कि वो रेप पीड़िता है।

 

 

पिछले महीने देहरादून के एक बोर्डिंग स्कूल में 10वीं की छात्रा का 4 छात्रों ने गैंगरेप किया। इस हादसे से उबरकर एक बार फिर अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ने की कोशिश में लगी रेप पीड़िता और उसके परिवार को उस वक़्त ज़बर्दस्त झटका लगा जब स्कूल ने ये कहते हुए एडमिशन देने से साफ मना कर दिया कि वो रेप पीड़िता है।

 


Advertisement

 

आपको उनका ये तर्क बेहूदा लगा होगा, है ही एकदम बेहूदा। पीड़ित लड़की की वकील अरुणा नेगी चौहान का कहना है सीबीएसई ने उन्हें एडमिशन के लिए स्कूलों की लिस्ट दी थी, लेकिन जब वो स्कूल गए तो सब स्कूल ने यही कहा सेमस्टर के बीच में एडमिशन नहीं दे सकते। लेकिन एक स्कूल का रवैया सबसे ज़्यादा हैरान करने वाला रहा। इस स्कूल में लड़की के माता-पिता ने सारी औपचारिकताएं पूरी कर ली थी, तभी अचानक से एक अधिकारी आकर कहता है उनके बेटी के साथ रेप हुआ है इसलिए उसे स्कूल में दाखिला नहीं मिल सकता।

लड़की के माता-पिता ने इस बारे में पुलिस मे शिकायत दर्ज करा दी है, साथ ही उनकी वकील ने इस मामले में देहरादून के एसएसपी को भी लिखित शिकायत भेजी है। लड़की के साथ स्कूल का रवैया वाकई बेहद शर्मनाक है।

 

 

16 साल की लड़की के साथ दून के बोर्डिंग स्कूल में अगस्त में रेप हुआ, मगर स्कूल प्रशासन ने मामले को दबा दिया। सितंबर में जब लड़की प्रेग्नेंट हो गई तब सारी बातें सामने आई। इस मामले में आरोपी चारों छात्र को जुवेलाइन होम में भेज दिया गया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement