इन बीमारियों के संकेतों को नजरअंदाज करना जानलेवा साबित हो सकता है

Updated on 27 Aug, 2018 at 4:50 pm

Advertisement

आज कल अधिकतर लोग किसी न किसी बीमारी से ग्रसित हैं। ऐसी कई बीमारियां हैं, जिनके शुरुआती लक्षण ज्यादातर लोगों को नजर नहीं आते, लेकिन आगे चलकर यही बीमारियां काफी घातक साबित होती हैं। हमारी लापरवाही के कारण ही बीमारियों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में ये जरूरी है कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए दुनियाभर में लोगों को जागरूक किया जाए और सेहत के प्रति जागरूक होने के लिए जरूरी है कि इन बीमारियों के बारे में जाना और समझा जाए, जिससे समय रहते इन बीमारियों का इलाज किया जा सके। यहां हम आपको कुछ ऐसी बीमारियों के बारे में बता रहे हैं, जिनका समय रहते इलाज न कराने पर वो जानलेवा भी साबित हो सकती हैं।

 

 

डायबिटीज या शुगर

बढ़ते समय के साथ डायबिटीज जैसी घातक बीमारी भी बढ़ने लगी है। शरीर में शुगर का असंतुलन बॉडी के अन्य ऑर्गन्स को भी नुकसान पहुंचा सकता है। सामान्यत: आपके शरीर में शुगर का स्तर 70 से 110 मिलीग्राम होना चाहिए। अगर आपका शुगर लेवल इसके आसपास है तो भी घबराने की बात नहीं, लेकिन इससे ज्यादा शुगर लेवल होने पर आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए ।

 

शुगर लेवल बढ़ने के संकेत

त्वचा में झुर्रियां

यदि समय से पहले ही आपके चेहरे पर झुर्रियां पड़ने लगी हैं तो ये शुगर लेवल बढ़ने का संकेत हो सकता है। इसके आलवा शुगर का स्तर बढ़ने पर चेहरे में दाग-धब्बे और लाल मुंहासे भी हो सकते हैं।

वजन घटना या बढ़ना  

शरीर का वजन तेजी से बढ़ना या घटना इस बात का संकेतक है कि आप डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी का शिकार हो सकते हैं। कई बार पेट के आसपास या कमर पर बहुत ज्यादा चर्बी इकट्ठी हो जाती है, जिसके कारण मोटापा बढ़ने लगता है। ऐसे में ये जरूरी है कि आप डॉक्टर से सलाह कर इलाज शुरू करवाएं।

भूख में बढ़ोत्तरी

वैसे तो भूख ज्यादा लगने के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन अगर आपको जरूरत से ज्यादा भूक लग रही है तो हो सकता है कि आप शुगर की चपेट में है।

घाव का जल्द न भरना


Advertisement

घाव का जल्दी न भरना डायबिटीज का लक्ष्ण हो सकता है। इस बीमारी से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता घट जाती है, जिससे घाव भरने में काफी समय लग जाता है।

 

उच्च रक्त चाप (हाई ब्लड प्रेशर)

तनावपूर्ण जिंदगी और अनियमित जीवनशैली के कारण हाई ब्लड प्रेशर की समयस्या दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है। इस बीमारी के कई कारण कई अन्य बीमारियां होने का भी खतरा बना रहता है। यही कारण है कि कई बार उच्च रक्तचाप  जानलेवा बीमारी साबित होती है। दुनियाभर में इस वक्त करोड़ों लोक इस बीमारी की चपेट में है। 35 वर्ष की आयु के बाद ही ब्लड प्रेशर की जांच करवानी शुरू कर देनी चाहिए, जिससे आप समय रहते इसका इलाज करवा सकें। ब्लड प्रेशर जैसी घातक बीमारी से निपटने के लिए ये जरूरी है कि आप अपनी जीवनशैली में बदलाव करें।

 

 

तनाव होना

अगर आपको बहुत ज्यादा तनाव है तो समझिए कि आपका ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ है। ऐसी स्थिति में आप हर छोटी बात पर गुस्सा करने लगते हैं।

थकावट होना

शरीर में बहुत ज्यादा थकावट महसूस होना भी एक संकेत है कि आपका ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ है।

नींद न आना

आमतौर पर देखा जाता है कि जिन लोगों को उच्च रक्तचाप की समस्या होती है, उन्हें रात में ठीक से नींद नहीं आती।

किडनी रोग

किडनी शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है, इसके खराब हो जाने से व्यक्ति पूरी तरह असहाय हो जाता है। ये भी एक ऐसी बीमारी है जिसके शुरुआती लक्षणों के बारे में पता ही नहीं चल पाता।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement