रोजाना 50 सिगरेट के बराबर धुआं आपके फेफड़ों में जा रहा है!

Updated on 23 Oct, 2017 at 12:49 pm

Advertisement

दिल्ली में इस बार दिवाली के अवसर पर भले ही पटाखे न जले हों, लेकिन प्रदूषण की मात्रा में सुधार नहीं हुआ है।

दिल्ली के अधिकतर इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 300 से अधिक है और यह प्रतिदिन 50 सिगरेट का धुआं शरीर में जाने के बराबर है। ऐसा सीपीसीबी की रिपोर्ट में कहा गया है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर का एयर क्वालिटी इंडेक्स 305 है, जबकि खास दिल्ली का एयर इंडेक्स 309 है। दिल्ली में आनंद विहार सबसे अधिक प्रदूषित है। यहां का एयर इंडेक्स 440 पर है, जबकि आईटीओ का एयर इंडेक्स 358, नोएडा का 357, आरके पुरम का 344, मंदिर मार्ग का 342 है।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि सबसे अधिक प्रदूषण रात 10 बजे से लेकर सुबह 9 बजे तक दर्ज होता है। इसकी वजह तापमान में गिरावट, ट्रकों की दिल्ली में एंट्री और सड़कों पर उड़ती धूल है। शनिवार रात दिल्ली का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 392 तक पहुंच गया था।



विशेषज्ञों की सलाह।

घर बंद रखें। घर से बाहर कम निकलें। अगर बाहर जाना जरूरी हो तो अच्छी क्वालिटी का मास्क पहनकर जाएं।

लोगों का कहना है कि दिल्ली में सांस लेने में परेशानी महसूस हो रही है। यही वजह है कि कल रविवार होने के बावजूद लोग अपने घरों में ही रहे। स्काईमेट का कहना है कि अगले दो दिन में हालात सामान्य होने की उम्मीद है। दिल्ली में इन दिनों हवा की रफ्तार कम है। हवा की रफ्तार अधिक होने पर स्थिति सामान्य होने में तेजी आएगी।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement