बेटी की शादी पर एक बिजनेसमैन ने बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 मकान

author image
5:38 pm 14 Dec, 2016

Advertisement

जहां एक तरफ हम अक्सर सुनते हैं कि इस व्यापारी ने और इस राजनेता ने अपने बेटे या बेटी की शादी में करोड़ो खर्च किए वहीं दूसरी तरफ औरंगाबाद के रहने वाले एक व्यापारी ने जो किया है वो वाकई काबिलेतारीफ है।

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में उद्योगपति मनोज मुनोत ने अपनी बेटी श्रेया की शादी पर करोड़ों खर्च करने के बजाए उन पैसों से बेघर लोगों के लिए 90 मकान बनाकर उन्हें तोहफे में दे दिए।

मनोज ने पहले अपनी बेटी की शादी पर 70 से 80 लाख रुपए खर्च करने का विचार किया था लेकिन बाद में एक दोस्त की सलाह पर उन्होंने शादी में फिजूल खर्च करने की बजाए गरीब लोगों के लिए घर बनाने का फैसला किया। उन्होंने अपनी बेटी की शादी साधारण तौर पर की।

वन रूम किचन वाले इन घरों को दो एकड़ जमीन पर दो महीने के अंदर तैयार किया गया, जिसमें करीबन 1.5 करोड़ रुपयों का खर्चा आया। मनोज ने लासूर स्थित अपनी 60 एकड़ जमीन में से 2 एकड़ जमीन पर बेघर लोगों के लिए कॉलोनी तैयार की।

house

अपने इस कदम पर मनोज का कहना है-


Advertisement

“इतिहास में ये एक नए अध्याय की तरह है और मुझे उम्मीद है कि इसी तरह से अन्य लोग भी आगे आएंगे। समाज के प्रति हमारी कुछ जिम्मेदारी है और हमने उसका पालन करने की एक कोशिश की है।”

दुल्हन बनी श्रेया ने भी अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वह अपने पिता के इस फैसले से खुश हैं और ये उनकी शादी का सबसे बेहतरीन तोहफा है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement