Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

58 साल पहले जान बचाने वाले भारतीय जवान के गले लगकर भावुक हुए दलाई लामा

Published on 3 April, 2017 at 2:51 pm By

बौद्ध धर्मगुरू दलाई लामा इन दिनों असम के दौरे पर हैं। इस दौरान दलाई लामा एक जवान से मुलाकात कर भावुक हो गए।

तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा उस वक्त भावुक हो गए, जब वह 1959 में खुद के भारत आने के दौरान सुरक्षा प्रदान करने वाले असम राइफल्स के रिटायर्ड हवलदार नरेन चंद्र दास से मिले।

दलाई को 1959 में इंटरनेशनल बॉर्डर से एस्कॉर्ट कर भारत लाने वाली आर्मी की टीम में दास भी थे। दास से मिलकर दलाई लामा अपने आंसू नहीं रोक पाए और उन्हें गले लगा लिया।

दरअसल, जब तिब्बत पर चीन के कब्जे के बाद दलाई लामा मार्च 1959 में भारत आये थे, तब नरेन चंद्र दास समेत असम राइफल्स के 5 जवानों ने उन्हें सुरक्षा प्रदान की थी।


Advertisement

इस मौके पर दलाई लामा ने कहाः



“आपको बहुत-बहुत शुक्रिया…मैं असम राइफल्स के इतने पुराने जवान से मिलकर बहुत खुश हूं, जो 58 वर्ष पहले अपनी सुरक्षा में मुझे भारत लेकर आये थे।”

आगे मजाकिया लहजे में बात करते हुए दलाई लामा ने कहा, “आपके चेहरे को देखकर लगता है कि मैं भी बहुत बुजुर्ग हो गया हूं।”


Advertisement

असम सरकार की ओर से गुवाहाटी में आयोजित नमामि ब्रह्मपुत्र महोत्सव के दौरान नरेन चंद्र दास दलाई लामा से मिल सके थे।

Advertisement

नई कहानियां

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग


Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर