जानिए रोज़ाना इस्तेमाल में आने वाली इन 14 चीज़ों की सफ़ाई के बारे में क्या कहता है विज्ञान?

Updated on 18 Apr, 2018 at 11:39 am

Advertisement

अपने शरीर के अंगों से लेकर रोज़ाना इस्तेमाल में आने वाली ढेर सारी चीज़ों की सफाई पर आप कितना ध्यान देते हैं? क्या आप जानते हैं कि कुछ चीज़ों को कितनी बार साफ करना ज़रूरी है? आप हाथ-मुंह पोंछने वाले तौलिया से लेकर फ्रिज तक को कितने दिनों के अंतराल पर साफ करते हैं? स्वस्थ रहने के लिए रोज़ाना इस्तेमाल में आने वाली चीज़ों की नियमित सफाई ज़रूरी है। चलिए आपको बताते है कि किस चीज़ को कब-कब साफ करना चाहिए इसके बारे में विज्ञान क्या कहता है।

 

हाथ

भोजन करने से लेकर दूसरों से हाथ मिलाने और बाकी काम के लिए हम हाथ का इस्तेमाल करते हैं। यह हमारे शरीर का बहुत महत्वपूर्ण अंग है और सबसे ज़्यादा बैक्टीरिया के संपर्क में भी यही आता है। इसलिए विज्ञान के मुताबिक, हमें अपने हाथों को हमेशा साफ करना चाहिए। कुछ खाने के बाद, गंदगी छूने के बाद और बाहर से आने के बाद हाथ धोना न भूलें।

 


Advertisement

Washing hands

 

चेहरा

विशेज्ञ कहते हैं कि चेहरे को दिन में दो बार से ज़्यादा नहीं धोना चाहिए। दो बार से ज्यादा धोने और बहुत ज़्यादा स्क्रबिंग से चेहरा के एसेंशियल ऑयल खत्म हो जाता है, जिससे चेहरे की नमी और निखार खत्म हो जाता है।

 

How often to clean

 

डेनिम

आप अपनी जींस को महीने में कितने बार धोते हैं? विज्ञान के मुताबिक, 4-6 बार पहनने के बाद जींस को धो लेना चाहिए। इससे जींस के फाइबर भी टाइट रहते हैं और साफ कपड़े पहनने से आप स्किन एलर्जी से भी बच जाएंगे।

 

How often to clean

 

तौलिया

तौलिये का इस्तेमाल तो आप रोज़ाना करते हैं, लेकिन इसे धोते कितने दिनों बाद हैं? विज्ञान कहता है कि तौलिये को 3 दिन इस्तेमाल के बाद अच्छी तरह धो लेना चाहिए और हर बार उपयोग करने के बाद इसे धूप में अच्छी तरह सुखा लेना चाहिए, वरना इसमें बैक्टीरिया पनप सकते हैं। किचन में इस्तेमाल होने वाले तौलियो को भी 3 दिन के बाद धो लें।

 

How often to clean

 

बेडशीट

दिनभर की थकान के बाद जब आप बेड पर लेटते हैं तो कितना सुकून मिलता है न, तो इस सुकून देने वाल चीज़ को भी तो हमेशा साफ रखना चाहिए न। बेडशीट पर आपके क्रीम, पाउडर से लेकर खाने के टुकड़े तक न जाने कितनी चीज़ें गिरती हैं, जिससे जर्म्स पैदा हो सकते हैं। इसलिए हफ्ते में एक बार बेडशीट को धो लें।

 

How often to clean

 

किचन सिंक

किचन सिंक में भी बहुत बैक्टीरिय जमा होते हैं। इसलिए इसे फिनाइल से हफ्ते में 2-3 बार अच्छी तरह साफ करना चाहिए। सिंक के साइड और नीचे भी ब्लीच से सफाई करें। ब्लीच लगाने के बाद उसे 5 मिनट रहने दें, फिर पानी से अच्छी तरह धो लें।

 

How often to clean

 

फ्रिज

विज्ञान के मुताबिक, हर 3-4 महीने में एक बार फ्रिज का प्लग निकालकर उसे अच्छी तरह साफ करना चाहिए। साबुन के पानी से उसके सारे शेल्व और ड्रावर को साफ करें फिर गुनगुने पानी से पोछ लें। फिर सूखे कपड़े से पोंछने के बाद फ्रिज को 10 मिनट खुला ही रहने दें।

 

How often to clean



बाथरूम

हफ्ते में एक बार बाथरूम की दीवार, शॉवर और ड्रेन्स को साफ करना ज़रूरी है, वरना यहां भी बैक्टीरिया पनपने लगेंगे। रोज़ाना कपड़े धोने के बाद फर्श को वाइपर या झाड़ू से साफ कर दें।

 

How often to clean

 

टॉयलेट

विशेषज्ञों के मुताबिक टॉयलेट सीट के एक स्क्वायर इंच में 50 बैक्टीरिया होते हैं। यानी पूरे घर मे सबसे ज़्यादा बैक्टीरिया यहीं होते हैं। इसलिए इसे हफ्ते में एक बार टॉयलेट क्लीनर से साफ करना ज़रूरी है।

 

How often to clean

 

बाथरूम में लगा प्लास्टिक का पर्दा

विज्ञान के मुताबिक, बाथरूम में लगे प्लास्टिक के पर्दे को एक या दो हफ्ते में धो लेना चाहिए।

 

How often to clean

 

स्पंज

विज्ञान के अनुसार बर्तन और सिंक धोने के लिए इस्तेमाल होने वाले स्पंज को हफ्ते में बदल देना चाहिए, क्योंकि इसके अंदर बहुत बैक्टीरिया पनपते हैं।

 

How often to clean

 

कारपेट

विशेषज्ञों के मुताबिक, अगर आपने घर में कारपेट बिछा रखा है तो एक या दो हफ्ते में एक बार वैक्यूम क्लीनर से इसे साफ करना ज़रूरी है।

 

How often to clean

 

फोन

क्या आपने कभी अपने फोन की सफ़ाई की है? नहीं, तो अब कर लीजिए। फोन को कई बार हम अपने गंदे हाथों से भी छूते हैं, इसे कहीं भी रख देते हैं, इसलिए इस पर ढेर सारे बैक्टीरिया जमा हो जाते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक, आपका फोन टॉयलेट सीट से भी ज़्यादा गंदा होता है। इसलिए हर दिन इसे साफ करना यानी कपड़े से अच्छी तरह पोंछना ज़रूरी है।

 

How often to clean

 

कीबोर्ड

फोन की तरह आपके कीबोर्ड पर भी ढेर सारे बैक्टीरिया जमा होते हैं। इसलिए हर 2-3 दिन के बाद कीबोर्ड, माउस और कंप्यूटर या लैपटॉप की स्क्रीन को साफ कर लेना चाहिए। ऑस्ट्रेलिया में हुए एक अध्ययन के मुताबिक, आपकी ऑफिस टेबल पर टॉयलेट सीट से 400 गुना ज़्यादा बैक्टीरिया होते हैं, इसलिए इसे हमेशा साफ रखें। साथ ही किसी भी तरह के इंफेक्शन से बचने के लिए कंप्यूटर इस्तेमाल करने से पहले और बाद में हाथ ज़रूर धो लें।

 

How often to clean


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement