दुनिया के 90 देशों पर सायबर हमला, हैकर्स ने मांगी फिरौती

author image
Updated on 13 May, 2017 at 10:42 am

Advertisement

दुनिया के 90 देशों पर बड़ा सायबर हमला हुआ है। इन देशों में चीन, अमेरिका सहित यूरोप के कई देश शामिल हैं। इस हमले की जद में भारत भी है या नहीं, इसे बारे में अब तक विस्तृत जानकारी नहीं मिल सकी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुनिया भर के कई अस्पतालों के अलावा, टेलिकॉम कंपनियां इस बड़े सायबर हमले का शिकार हुई हैं।

खास बात यह है कि हमले के बाद हैकर्स ने फिरौती मांगी है। इससे दुनिया भर में हड़कंप मचा हुआ है।

ब्रिटेन की स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। सायबर अटैक का असर लंदन, नॉर्थवेस्ट इंगलैंड और देश के अन्य हिस्से में स्थित अस्पतालों पर भी पड़ा है।

साथ ही अन्य दर्जनों अस्पतालों पर भी इसका असर पड़ा है। ब्रिटेन की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा को निशाना बनाने वाले इस रैंसमवेयर का नाम WanaCrypt0r 2.0 है।

रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कुछ दिनों पहले अमेरिका की नेशनल सिक्योरिटी एजेन्सी की तकनीक इन्टरनेट पर लीक हो गई थी। हैकर्स ने इसी तकनीक का इस्तेमाल कर बड़े पैमाने पर सायबर हमला किया है।

हैकर्स ने शिकार देशों से कहा है कि उन्हें बिटक्वायन करेन्सी में फिरौती देनी होगी।

आखिर क्या है रैंसमवेयर?

रैंसमवेयर एक कंप्यूटर वायरस है जो कंप्यूटर्स फाइल को बर्बाद करने की धमकी देता है। धमकी दी जाती है कि यदि अपनी फाइलों को बचाना है तो फीस चुकानी होगी।

यह वायरस कंप्यूटर में मौजूद फाइलों और वीडियो को इनक्रिप्ट कर देता है और उन्हें फिरौती देने के बाद ही डिक्रिप्ट किया जा सकता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement