आतंकी हमले में शहीद हुए CRPF जवान, गमगीन हुआ पूरा परिवार

author image
Updated on 27 Jun, 2016 at 3:05 pm

Advertisement

श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर पंपोर इलाके में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर फिदायीन हमले में CRPF के शहीद हुए 8 जवानों में एक जवान थे हवलदार जगतार सिंह। उनके पिता सुदागर सिंह को अपने बेटे की शहादत पर नाज है।

हवलदार जगतार सिंह सीआरपीएफ में बतौर ड्राइवर तैनात थे और हमले का शिकार हुए काफिले की बस को जगतार सिंह ही चला रहा थे।

गांव मियांपुर के निकट बुर्जवाला निवासी 45 वर्षीय जगतार सिंह साल 1994 में CRPF में भर्ती हुए थे। जगतार सिंह पिछले आठ वर्ष से श्रीनगर में तैनात थे। जगतार सिंह जाते-जाते अपने पीछे अपनी पत्नी हरनीप कौर और दो बच्चों बेटी जशनप्रीत कौर और बेटा गुरमनवीर सिंह को पीछे छोड़ गए।

जगतार सिंह का परिवार भी देश की सेवा करता रहा है। जगतार सिंह के चाचा सूबेदार प्रेम सिंह और सरदार सिंह ताया चाचा फौज में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। तीन भाइयों में से छोटे जगतार सिंह के दोनों भाई पवित्र सिंह व निर्मल सिंह भी डिफेंस में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे है।

जगतार सिंह के गांव वासी बताते है कि जगतार एक दिलेर शख्सियत वाले जाबाज थे। जगतार सिंह एक बेहतरीन कबड्‌डी के खिलाड़ी थे।

शहीद जवान जगतार सिंह की याद में गांव वाले उनकी स्मृति बनाना चाहते है ताकि आज की युवा पीढ़ी में सेना में भर्ती हो,  मातृभूमि की सेवा करने का जज्बा पैदा हो सके।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement