भारी बर्फबारी में पुलिसकर्मियों ने 3 घंटे पैदल चलकर गर्भवती महिला को कंधे पर पहुंचाया अस्पताल

author image
Updated on 16 Jan, 2017 at 9:28 pm

Advertisement

हिमाचल प्रदेश के शिमला में लगातार बर्फबारी के बाद से सड़कें जाम हैं। भारी बर्फबारी से आम जन-जीवन प्रभावित हो रहा है। ऐसे में शिमला से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर आपको गर्व होगा।

घटना 9 जनवरी की है, जब 23 वर्षीय गर्भवती कामिनी को शाम को करीबन साढ़े पांच बजे के आस-पास लेबर पेन होना शुरू हो गया। कामिनी की मां ने जब एंबुलेंस के लिए 108 डायल किया, तो सड़कों में जाम होने की वजह से उन्होंने आने से इनकार कर दिया। भारी बर्फ़बारी के कारण शिमला में यातायात के साधन बुरी तरह से प्रभावित है।

गर्भवती महिला दर्द से बुरी तरह कराह रही थी। ऐसे में एम्बुलेंस की सुविधा न मिलने पर, पुलिस के छह जवानों ने जो किया वो सराहनीय है।

पुलिसकर्मियों ने बर्फबारी के बीच साढ़े तीन घंटे पैदल चलकर गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया। महिला को खाट पर लिटाया, कंबल में लपेटा और कंधों पर लादकर भारी बर्फ और भयंकर ठंड में जवानों ने पैदल 10 किमी की दूरी तय की।

रात के करीबन साढ़े नौ बजे जवान महिला को लेकर कमला नेहरू अस्‍पताल पहुंचे। पुलिसकर्मियों की मदद से कामिनी की सफल सर्जरी हुई और उन्होंने एक स्‍वस्‍थ बच्‍ची को जन्‍म दिया।

अस्पताल के डॉक्टरों ने जवानों की प्रशंसा करते हुए कहा कि अगर घर पर ही अगली सुबह होने का इंतजार किया जाता तो कामिनी की जान को खतरा हो सकता था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement