पाकिस्तान ने हिंदुओं के त्योहार ‘बसंत उत्सव’ पर लगाया पूर्ण प्रतिबंध

author image
Updated on 8 Feb, 2017 at 1:58 pm

Advertisement

पाकिस्तान में पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ ने बसंत त्योहार पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगा दिया है। बंसत उत्सव, वसंत ऋतु के आगमन के जश्न में मनाया जाने वाला त्योहार है, जिसे विशेषकर पंजाबियों में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है।

pak

शाहबाज शरीफ dailypakistan

अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट से ट्वीट कर शाहबाज शरीफ ने कहा कि किसी को भी लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। अगर इस प्रतिबन्ध का कोई उल्लंघन करता पाया जाता है, तो सबंधित जिला पुलिस अधिकारी को इसका जवाब देना होगा।


Advertisement

आपको बता दे कि बसंत उत्सव में पतंगबाजी का विशेष महत्व है। ऐसे में वहां पतंग के मांझे से गले कटने की कई घटनाएं सामने भी आई है।

पतंग उड़ाने के लिए इस्तेमाल किए जाए जाने वाले मांझे से होने वाली मौतों और इससे लोगों के घायल होने की घटनाओं को देखते हुए, वहां बसंत उत्सव पर प्रतिबन्ध लगाने का निर्णय लिया गया है।

गौरतलब है कि 2007 में ही पतंग उड़ाने के दौरान होने वाली मौतों को देखते हुए इस त्योहार पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था। लेकिन अब वहां की सरकार ने इस त्योहार को पूरी तरह से प्रतिबंधित करने का फैसला किया है।

हालांकि, विश्लेषकों का कहना है कि सरकार ने हाफिज सईद के नेतृत्व वाले जमात-उद दावा जैसे कट्टरपंथी और उग्रवादी संगठनों के दबाव में आकर इस त्योहार पर प्रतिबंध लगाया।

इन संगठनों का कहना है  कि बसंत उत्सव का आरंभ हिंदुओं ने किया इस लिहाज से यह गैर इस्लामी है।

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement