कलेक्टर ने अपने ड्राइवर को रिटायरमेंट पर दिया यादगार तोहफा, जानिए क्या है मामला

author image
Updated on 4 Nov, 2016 at 9:32 pm

Advertisement

कुछ मिसालें वाकई बेहद खास होती हैं। अकोला के कलेक्टर जी श्रीकांत ने अपने ड्राइवर दिंगबर थाक को उनके रिटायरमेंट के दिन एक ऐसा तोहफा दिया, जो वाकई खास था। इस तोहफे को दिंगबर कभी भूल नहीं सकते।

दिगंबर करीब 35 सालों से महाराष्ट्र के अकोला में तैनात हुए कलेक्टरों की कारें चला रहे थे और जब उनके रिटायरमेंट का दिन आया तो अकोला के कलेक्‍टर जी. श्रीकांत ने उन्हें यादगार विदाई देकर उपहार देने का फैसला किया। इसके लिए उन्होंने अपने दफ्तर में विशेष विदाई समारोह का आयोजन किया ।

इस दिन को खास बनाते हुए कलेक्टर श्रीकांत ने पूरे सम्मान के साथ दिंगबर को पीछे वाली सीट पर बैठाया और खुद कार चलाकर व‍िदाई समारोह के बाद उन्‍हें बाहर तक छोड़ कर आए।

कलेक्टर जी. श्रीकांत ने कहाः


Advertisement

“लगभग 35 साल तक उन्होंने राज्य को अपनी सेवाएं दीं और सुनिश्चित किया कि कलेक्टर रोज़ाना दफ्तर तक सुरक्षित पहुंचें… मैं इस दिन को उनके लिए यादगार बना देना चाहता था, और जो कुछ उन्होंने किया, उसके लिए धन्यवाद भी कहना चाहता था…।”

सरकारी ड्राइवर के तौर पर 58 वर्षीय दिगंबर ने  18 कलेक्टरों को अपनी सेवाएं प्रदान की हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement