मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, अब पाक हिंदू सौ रूपए में पा सकेंगे भारत की नागरिकता

author image
Updated on 28 Dec, 2016 at 5:53 pm

Advertisement

पाकिस्तान सहित तीन पड़ोसी देशों से आए हिंदू प्रवासियों को केंद्र सरकार ने बड़ी राहत दी है।

अब हिंदू समेत अन्य अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन देने में बड़ी रकम खर्च नहीं करनी पड़ेगी। केंद्र सरकार ने नागरिकता आवेदन पत्र की फीस में भारी कमी करते हुए 15,000 रुपये से घटाकर 100 रुपये कर दी है।

गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए अधिसूचना में कहा गया है कि यह नया नियम पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों पर लागू होगा।

वहीं इन देशों के इलावा, दूसरे अन्य देशों के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को भी शुल्क में रियायत दी गई है। पडोसी देशों के अलावा दूसरे देशों के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को पंजीयन के लिए 15,000 रुपये की जगह 10,000 रुपये ही शुल्क देना होगा।


Advertisement

नागरिकता नियम 2009 के विभिन्न प्रावधानों में संशोधन के साथ यह परिवर्तन किए गए हैं।

नये नियमों के अनुसार, दूसरे देशों से आए अल्पसंख्यक समुदाय के लोग अब सब-डिविजनल मैजिस्ट्रेट की अनुपस्थिति में कलेक्टर, डेप्युटी कमिश्नर या डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट के समक्ष भी भारतीय नागरिक के रूप में निष्ठा की शपथ ले सकेंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement