पाकिस्तान में सुरक्षित नहीं हैं ‘दोस्त’ चीन भी, अब जताई राजदूत के हत्या की आशंका

Updated on 22 Oct, 2017 at 4:31 pm

Advertisement

पाकिस्तान के कथित दोस्त चीन के लोग खुद पाकिस्तान में सुरक्षित नहीं हैं।

चीन ने आशंका जताई है कि पाकिस्तान में उसके नव-नियुक्त राजदूत की हत्या की जा सकती है। यही वजह है कि चीन ने अपने राजदूत के कड़ी सुरक्षा की मांग की है। दरअसल चीन के राजदूत को लगातार धमकी मिल रही है। इन धमकियों के मद्देनजर चीनी दूतावास ने पिछले 19 अक्टूबर को पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्रालय को एक पत्र लिखकर अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। पत्र में कहा गया है कि चीन के राजदूत की हत्या के उद्देश्य से प्रतिबंधित आतंकी संगठन ईस्ट तुर्किस्तान इस्लामिक मूवमेंट (ETIM) का एक आतंकी पाकिस्तान में घुस गया है। साथ ही इस पत्र में पाकिस्तान में रह रहे अन्य चीनी नागरिकों की सुरक्षा का मुद्दा भी उठाया गया है। इस पत्र में आतंकी के पासपोर्ट की जानकारी भी साझा की गई है। उसका नाम अब्दुल वाली बताया गया है। ETIM पाकिस्तान से सटे चीन के इलाकों में चीनी मुसलमानों के कथित हित में काम करता है।

यह मामला मीडिया में नहीं आता लेकिन इस पत्र को चीन-पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर के प्रमुख व्यक्ति पिंग यिंग फी ने मीडिया में सार्वजनिक कर दिया।

चीन ने अफगानिस्तान में चीन के राजदूत रहे याओ जिंग को पाकिस्तान में चीन का नया राजदूत बनाया है।

पाकिस्तान में चीन के नव-नियुक्त राजदूत याओ जिंग।

पाकिस्तान में अलग अलग परियोजनाओं पर काम कर रहे चीनी अधिकारियों की सुरक्षा एक प्रमुख मुद्दा है। चाइना-पाकिस्तान इकोनोमिक कॉरीडोर पर काम कर रहे अधिकारियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी चीन की सेना को दी गई है, इसके बावजूद हाल ही में कई का अपहरण कर लिया गया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement