Video: चौथी मंजिल पर लटकी थी बच्ची, युवकों ने बिना सहारे बिल्डिंग पर चढ़ बचाई जान

author image
Updated on 12 Sep, 2018 at 2:45 pm

Advertisement

चीन की एक मशहूर कहावत है- यदि आपको एक दिन की खुशी चाहिए, तो एक घंटा ज़्यादा सोएं। यदि एक हफ्ते की खुशी चाहिए, तो एक दिन पिकनिक पर अवश्य जाएं। यदि एक माह की खुशी चाहिए, तो अपने लोगों से मिलें। यदि एक साल के लिए खुशियां चाहिए, तो शादी कर लें और ज़िंदगी भर की खुशियां चाहिए तो किसी अनजान व्यक्ति की सहायता करें।

लेकिन आज की इस मतलबी दुनिया में लोग सिर्फ़ अपने बारे में सोचते हैं। किसी अनजान की मदद तो दूर की बात है यहां भाई-भाई एक-दूसरे के दुश्मन बन जाते हैं। सड़क पर कोई तड़प कर अपना दम तोड़ देगा और लोग उसे अस्पताल पहुंचाने के बजाय हाथ में कैमरा लिए उसकी तस्वीर-विडियो बनाने में मशरूफ़ हो जाते हैं।

हालांकि, कई लोग ऐसे भी है, जिनकी वजह से इंसानियत पर विश्वास कायम है। चीन के चांगहू शहर में एक तीन साल की बच्ची की जान जाते जाते बची। वो खिड़की खोलने के दौरान चौथी मंजिल की बालकनी से लटक गई। घटना 7 सितंबर की बताई जा रही है। बच्ची के माता-पिता बेटी को घर में सोता छोड़ किसी काम से बाहर चले गए। कुछ देर बाद बच्ची की नींद खुली और वो बालकनी में आ गई। फिर देखते ही देखते वो बालकनी से गिर गई और रेलिंग पर जाकर फंस गई।

 


Advertisement

 

तभी वहां से गुज़र रहे दो युवकों की नजर इस बच्ची पर पड़ी।  इसके बाद दोनों युवकों ने अपनी जान की परवाह किए बिना बिल्डिंग पर चढ़ना शुरू किया। यह किसी जोखिम से कम नहीं था। एक गलती दोनों की जान पर भारी पड़ सकती थी। दोनों सुपर हीरो की तरह दीवार पर चढ़ते हुए बच्ची के पास पहुंचे और उसे सुरक्षित रेलिंग से निकाला।

 

 

इस पूरी घटना को लेकर बेटी के पिता ने दोनों युवकों का शुक्रिया अदा किया। बच्ची के पिता ने युवकों के बारे में कहा कि बिल्डिंग पर चढ़ना काफी खतरनाक है, इन्होंने मेरी बच्ची की जान बचाई। इसके लिए मैं इन लोगों का हमेशा कर्जदार रहूंगा।

 

 

युवकों के बिल्डिंग पर चढ़ने का एक विडियो भी वायरल हो रहा है। इस विडियो को People’s Daily China के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से शेयर किया गया है। इन युवकों की इस बहादुरी का विडियो आप भी देखिए।

 

 

सोशल मीडिया पर इन दो सुपरहीरोज का विडियो वायरल होने के बाद से लोग इनकी तारीफों के पुल बांध रहे हैं।

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement