कर्ज नहीं चुकाया तो चीन अब इस देश के एयरपोर्ट पर कब्जा करने जा रहा है!

Updated on 11 Sep, 2018 at 9:31 am

Advertisement

दूसरे देश के संसाधनों पर कब्ज़ा करने की कोशिश में चीन हमेशा ही आगे रहा है। तिब्बत पर तो उसने कब्ज़ा कर ही लिया है और भारत के अरुणाचल प्रदेश पर भी कब्ज़ा जमाने की हर संभव कोशिश कर चुका है। वहीं, चीन सागर के तटवर्ती देशों पर भी धौंस जमाता रहा है। अब खबर आ रही है कि चीन एक अफ्रीकन देश जांबिया के एयरपोर्ट पर कब्जा करने जा रहा है। इसकी वजह है उस देश का चीन को कर्ज़ न चुका पाना।

चीन ने अफ्रीकी देश जांबिया को भारी भरकम कर्ज दे रखा है और अब खबर है कि जांबिया ने चीन के कर्ज की किश्त समय पर नहीं चुकाई तो चीन की कंपनी ने जांबिया के इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर अपना कब्जा जमाने जा रहा है। ऐसी खबरें अफ्रीकी और जांबिया के मीडिया रिपोर्ट से आ रही हैं। इस रिपोर्ट की मानें तो केनेथ कोन्डा इंटरनेशल एयरपोर्ट जिसे चीन से भारी-भरकम कर्ज लेकर बनाया गया है, पर चीन की नजर है।

हालांकि, जांबिया की सरकार ने इस खबर का खंडन किया है।

 

जांबिया एयरपोर्ट (Zambia Airport)

africanstand


Advertisement

 

अफ्रीकन मीडिया में इस बात की चर्चा है कि चीन इस समय अपनी नीतियों से अफ्रीका को अपनी एक कॉलोनी बनाना चाहता है। इस संबंध में बीबीसी की भी एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी, जिसमें इस बात की आशंका जताई गई है। अब जांबिया के लोन नहीं चुका पाने के कारण चीन के एयरपोर्ट को टेकओवर करने के प्रस्ताव से यहां के लोगों में हलच है। जांबिया में चीन का ज़बर्दस्त दखल है। जांबियन नेशनल ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन में चीन की हिस्सेदारी 60 फीसदी से ज्यादा हो चुकी है। इसका साफ मतलब यह है कि चीन की इजाज़त के बिना कोई बात बाहर नहीं आ सकती। दूसरी तरफ, भले ही मीडिया में जांबिया के एयरपोर्ट को टेकओवर करने की खबरें आ रही हैं, लेकिन वहां कि सरकार ने ऐसी खबरों को गलत बताया है।



सरकार के प्रवक्ता के मुताबिकः

“इस तरह की सभी खबरें झूठी हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि जांबिया की सरकार स्टेट ब्रॉडकास्ट, केनेथ कोंडा एयरपोर्ट और जेस्को को चीन को बेचने जा रही है।  उन्होंने कहा, ZNBC और केके एयरपोर्ट अब तक पूरे भी नहीं हुए हैं, ऐसे में उन्हें कैसे किसी को बेचा जा सकता है।”

 

 


Advertisement

अब सच कौन बोल रहा है, जांबिया की सरकार या मीडिया रिपोर्ट्स ये तो पता नहीं! इस बारे में वक्त ही बताएगा।

आपके विचार


  • Advertisement