अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने दिया चीन को झटका, दक्षिण चीनी समुद्र पर दावा ख़ारिज

author image
Updated on 12 Jul, 2016 at 5:41 pm

Advertisement

चीन को बड़ा झटका लगा है। अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय यानी हेग ट्रिब्यूनल ने दक्षिणी चीनी समुद्री क्षेत्र पर चीन का दावा खारिज कर दिया है। वहीं, चीन ने कहा है कि वह इस फैसले को नहीं मानेगा।

ट्रिब्युनल ने इस क्षेत्र पर फिलिपींस के दावे को सही मानते हुए कहा है कि ऐसा कोई ऐतिहासिक सबूत नहीं है कि चीन इस क्षेत्र पर तथा इसके संसाधनों पर एकाधिकार रहा हो। यही नहीं, ट्रिब्युनल ने कहा कि दक्षिण चीन समुद्र के पानी पर भी चीन का अधिकार नहीं है।

फिलिपींस के पक्ष में फैसला सुनाते हुए ट्रिब्युनल ने कहा कि चीन ने फिलिपींस के पारंपरिक मछली उद्योग के अधिकारों का भी हनन किया है।

हेग ट्रिब्यूनल ने जब यह फैसला सुनाया, उस वक्त चीन का कोई प्रतिनिधि वहां नहीं था। दरअसल, चीन को अंदाजा हो गया था कि फैसले में क्या आने वाला है। यही वजह है कि उसने यहां आने से इन्कार दिया।

इस बीच, चीन ने इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि अंतरराष्ट्रीय अदालत इस इलाक़े को लेकर उसके सम्प्रभुता के दावे पर चाहे जो फैसला दे, वह दक्षिणी चीन सागर में अपने समुद्री हितों की रक्षा करेगा।

चीनी रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि चीन की सशस्त्र सेनाएं धमकियों और ख़तरों से निपटने के लिए तैयार हैं।

गौरतलब है कि दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन और फिलिपींस में व्यापक विवाद है। चीन यहां अपनी मौजदूगी बढ़ा रहा है और यहां उसने कृत्रिम बंदरगाह भी बना लिए हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement