बच्चों पर इस्लाम थोपा तो होगी जेल, यहां दाढ़ी और बुर्के पर है पहले से प्रतिबंध

author image
Updated on 17 Oct, 2016 at 10:57 am

Advertisement

चीन के शिनजियांग प्रान्त में अगर मुसलिम माता-पिता अपने बच्चों पर जबरन इस्लाम थोपने की कोशिश करेंगे तो उन्हें जेल जाना पड़ेगा।

यहां के बच्चे न तो मुस्लिम पहचान वाले कपड़े पहन सकते हैं और न ही उनके माता-पिता ऐसा करने के लिए उनको बाध्य कर सकते हैं। गौरतलब है कि शिनजियांग प्रान्त में दाढ़ी और बुर्के पर पहले से ही पाबंदी लगी हुई है। यह नया नियम अगले 1 नवंबर से लागू कर दिया जाएगा।

नए नियम के मुताबिक, माता-पिता या अभिभावक बच्चों को किसी धार्मिक कार्यक्रम या गतिविधि में भाग लेने के लिए न तो दबाब डाल सकते हैं और न ही प्रलोभन का सहारा ले सकते हैं। यहां तक कि बच्चों को खास तरह के पहनावे या धार्मिक चिह्न के लिए प्रेरित करना, या खास किताब पढ़ने के लिए कहना भी अपराध की श्रेणी में आएगा। बताया गया है कि ये नए नियम नई शिक्षा नीति के तहत घोषित की गई है।


Advertisement

गौरतलब है कि शिनजियांग प्रान्त में मुसलमानों की जनसंख्या करीब 1 करोड़ है। ये सभी उइगर मुस्लिम समुदाय से संबंध रखते हैं। यह प्रान्त लंबे समय से इस्लामी चरमपंथी हिंसा का शिकार रहा है, जिसमें सैकड़ों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

एक रिपोर्ट में कहा गया है कि शिनजियांग के स्कूलों में भी किसी तरह के धार्मिक आयोजन पर रोक है।

बताया गया है कि कोई भी व्यक्ति या समूह बच्चों के ऐसे बरताव पर रोक लगाने के लिए पुलिस या सुरक्षा विभाग में शिकायत कर सकता है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement