भारत के खिलाफ चीन-पाकिस्तान की साजिश, ब्रह्मपुत्र की सहायक नदी का पानी रोका

author image
Updated on 1 Oct, 2016 at 3:37 pm

Advertisement

चीन ने ब्रह्मपुत्र की सहायक नदी शियाबुकु का पानी रोक दिया है। तिब्बत में चीन की इस कार्रवाई से भारत सहित कई देशों में ब्रह्मपुत्र के पानी का बहाव प्रभावित हो सकता है। माना जा रहा है कि चीन ने यह कदम पाकिस्तान के समर्थन में उठाया है।

जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत अलग-अलग तरह से पाकिस्तान को घेरने की कोशिश कर रहा है। इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिन्धु जल समझौते की समीक्षा की थी। इसके बाद ही पाकिस्तान ने धमकी दी थी कि वह चीन से कहकर ब्रह्मपुत्र का पानी रुकवा देगा।

अब चीन के इस कदम को पाकिस्तान पर भारत के दबाव का जवाब माना जा रहा है।

माना जा रहा है कि इस चीनी कार्रवाई के बाद भारत के असम, सिक्कम और अरुणाचल प्रदेश में पानी की आपूर्ति में कमी आ सकती है।

चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, यहां हाइड्रो परियोजना पर काम चल रहा है। इस पर करीब 740 मिलियन डॉलर की लागत आएगी। और यही वजह है कि चीन ने इस नदी के बहाव को रोक दिया है।


Advertisement

यह परियोजना तिब्बत के जाइगस में है, जो सिक्किम के नजदीक है। जाइगस से ही ब्रह्मपुत्र नदी अरुणाचल में बहते हुए प्रवेश करती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement