Advertisement

छठ पूजा से पहले दिल्ली के रेलवे स्टेशन्स की ये तस्वीरें वाकई भयावह और चिन्ताजनक हैं

author image
4:15 pm 26 Oct, 2017

Advertisement

आज छठ पूजा के लिए डूबते हुए सूर्यदेव को अर्घ्य दिया जा रहा है। छठ पूजा की शुरुआत नहाय-खाय के साथ 24 अक्टूबर को शुरू हुई है और इसका समापन कल उदित होते सूर्य को अर्घ्य देकर होगा। छठ पूजा आमतौर पर बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में होती है। हालांकि, अब प्रवासियों के पूरे देश में होने की वजह से इस पूजा का आयोजन बंगाल से लेकर मुंबई तक होता है।

छठ पूजा के अवसर पर हजारों लोग अपने घर की तरफ वापसी करते हैं। मेट्रोपोलिटन शहरों में रहने वाले हजारों की संख्या में प्रवासी यह खास दिन अपने गांव या कस्बे में बिताना चाहते हैं। अपने लोगों के बीच रहकर। यही वजह है कि छठ पूजा से ठीक पहले ट्रेनों में तिल रखने की भी जगह नहीं होती।

हम यहां कुछ तस्वीरें प्रकाशित कर रहे हैं, जो दिल्ली के रेलवे स्टेशन्स की हैं।

खिड़की से कोच में घुसने की कोशिश में यात्री।

हजारों लोगों की भीड़।

ये तस्वीरें न केवल भयावह हैं, बल्कि चिन्ताजनक भी।


Advertisement

त्यौहारों के इस सीजन में लोगों की भीड़ को देकते हुए रेलवे ने 31 विशेष ट्रेनें चलाने की घोषणा की है। रेलवे पुलिस की अधिक संख्या में तैनाती की गई है। आपातकालीन सुविधाओं को तैयार रखा गया है। इसके बावजूद लगता है कि ये सहूलियतें नाकाफी हैं।

इस तस्वीर में आप देख सकते हैं कि भीड़ की वजह से घायल यात्री को रेलवे की तरफ से मदद दी जा रही है।

छठ पूजा के अवसर पर अपने घर की तरफ जाने वाले यात्रियों के लिए रेलवे की तरफ से विशेष सुविधाएं भी मुहैया कराई गईं हैं।

हालांकि, ये भीड़ मुंबई के एलिफिन्स्टन रेलवे स्टेशन पर हुए हादसे की याद दिलाती है, जिसमें 23 लोग मारे गए थे। यह तस्वीर एलिफिन्स्टन हादसे की याद ताजा कर देती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement