गलती से भारतीय सीमा में घुसे 3 पाकिस्तानी लड़कों को बीएसएफ ने वापस भेजा

author image
2:47 pm 12 Jun, 2016

Advertisement

भारत और पाकिस्तान के बीच चले आ रहे तनावपूर्ण आपसी संबंधों के बीच, इस एक खबर ने सौहार्द्र की मिसाल पेश की है। दोनों देशों के आम लोग यक़ीनन अमन की मशाल दोनों मुल्कों में चाहते है।

अनजाने में तीन पाकिस्तानी लड़के भारतीय सीमा क्षेत्र में प्रवेश कर गए, सीमा पर तैनात हमारे देश के भारतीय जवानों ने दोनों देशों की खटास की आंच इन तीन नाबालिगों पर नहीं पड़ने दी।

bsf

बीएसएफ के जवानों के साथ तीनों पाकिस्तानी लड़के ANI

इन तीनों लड़कों ने गलती से अमृतसर जिले के अजनाला शहर में भारतीय सीमा क्षेत्र में प्रवेश कर लिया था, जिसके बाद इन्हें हिरासत में ले लिया गया था।

आमिर (15), नोमिन अली (14) और अरशद (12) मोटरसाइकिल में अपने रिश्तेदारों से मिलने जा रहे थे, तभी अनजाने में वह भारतीय सीमा क्षेत्र में आ गए, उस वक़्त ड्यूटी पर तैनात एक गार्ड में उन्हे पकड़ लिया।

70 बीएसएफ बटालियन के कमांडर सीपी मीना ने बताया:

“ये तीन लड़के अपने रिश्तेदारों से मिलने आ रहे थे, गलती से हमारे क्षेत्र में प्रवेश कर गए क्योंकि इन्हें मालूम नहीं था कि भारत का क्षेत्र कहाँ से शुरू होता है।”

BSF

कमांडर सीपी मीना ANI

आमिर जो फैसलाबाद का रहना वाला है और 9वीं कक्षा में पड़ता है, उसने बीएसएफ का आभार जताते हुए कहा कि वह  भारतीय जवानों की इस दरियादिली को हमेशा याद रखेंगे।


Advertisement

आमिर ने कहा:

“जिन जवानों ने हमें सिमा क्षेत्र पार करने के कारण पकड़ लिया था, उन्होंने हमारे खाने-पीने और हमारा पूरा ख्याल रखा। मैं अपनी सरकार से भी यही चाहता हूँ कि वह भारतीयों के साथ ऐसे ही पेश आए।”

जैसे ही लड़कों को हिरासत में लिया गया, वैसे ही बीएसएफ ने पाकिस्तानी अधिकारियों से संपर्क किया, और उन्हें इन तीन लड़कों के बारे में सूचित किया गया।  साथ ही भारतीय अधिकारियों को भी  इसकी जानकारी दी गई। बाद में लड़कों को वापस भेजने का निर्देश दिया गया।

कमांडर मीना ने बताया कि इन लड़कों ने किसी गलत इरादे से भारतीय सीमा में प्रवेश नहीं किया था, जिस वजह से हम लोगों ने उन्हें चॉकलेट गिफ्ट देकर वापस पाकिस्तान भेज दिया। ताकि, वे यहां जितने देर रुके उसे याद रख सके। हम उन्हें भारत की अच्छी यादों के साथ वापस भेजना चाहते थे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement