क्वेटा के सरकारी अस्पताल में धमाका, 53 लोगों की मौत

author image
Updated on 8 Aug, 2016 at 2:27 pm

Advertisement

पाकिस्तान के शहर क्वेटा में सरकारी अस्पताल में हुए धमाके में कम से कम 53 लोगों की मौत हुई है, जबकि दर्जनों लोग घायल हुए हैं। जोरदार धमाके के बाद गोलीबारी की भी खबर है।

बम विस्फोट की इस घटना के बाद शहर में आपातकाल लगा दिया गया है।


Advertisement

बलूचिस्तान के गृह मंत्री सरफराज बुगती ने भी इस हमले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि बलूचिस्तान बार असोसिएशन के पूर्व प्रेजिडेंट बिलाल अनवर कासी के मारे जाने के बाद यहां जबर्दस्त धमाका हुआ। इस धमाके से पहले सोमवार सुबह ही एक अज्ञात बंदूकधारी ने बिलाल की हत्या कर दी थी।



बिलाल कासी के शव को लेकर जब उनके साथी वकील बड़ी संख्या में सरकारी अस्पताल पहुंचे, तभी यह धमाका हुआ।

मारे गए लोगों में वकीलों की संख्या अधिक है।

बताया गया है कि सरकारी अस्पताल के कैम्पस में गोलीबारी सुनी जा रही है। इस हमले में पत्रकार भी जख्मी हुए हैं।

घटना के बाद सेना ने पूरे इलाके को घेर रखा है। बलूचिस्तान के गृह मंत्री सरफराज बुगती ने इसे सुरक्षा चूक का मामला बताया। उन्होंने कहा कि इस ब्लास्ट के बारे में अभी कुछ भी कहना जल्दीबाजी होगी।

इससे पहले यह हॉस्पिटल आतंकियों को निशाने पर कभी नहीं रहा है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement