IDS के तहत 65,250 करोड़ रुपए के काले धन का खुलासा

author image
Updated on 1 Oct, 2016 at 5:58 pm

Advertisement

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि घरेलू आय घोषणा योजना (इनकम डेक्लेरेशन स्कीम) यानी IDS के तहत देश के 64,275 लोगों ने कुल 65,250 करोड़ रुपए के काले धन का खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में इस संपत्ति में और बढ़ोत्तरी हो सकती है।

गौरतलब है कि केन्द्र सरकार ने IDS का ऐलान करते हुए कहा था कि काला धन रखने वाले अगर 30 सितम्बर तक इसे सार्वजनिक करेंगे तो उन्हें सिर्फ टैक्स और पेनल्टी देना होगा। उन पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाएगी।

इसके लिए सरकार ने समय-समय पर अपनी तरफ से कोशिशें की थीं, जिससे अधिक से अधिक लोग अपने काला धन का खुलासा कर सकें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 30 सितंबर के बाद काला धन रखने वालों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही थी।


Advertisement

सरकार की तरफ से केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड-सीबीडीटी ने प्रधान आयकर आयुक्तों को 30 सितंबर को मध्यरात्रि तक काउंटर खोलने के निर्देश दिए थे. ताकि IDS के तहत लोगों को अपने बेहिसाबी धन की घोषणा करने में सुविधा हो।

काला धन की घोषणा करने वाले लोग घोषित ब्लैकमनी पर, पेनाल्टी, सरचार्ज टैक्स की 25 प्रतिशत राशि 30 नवंबर 2016 तक जमा करा सकेंगे। इसी तरह दूसरी किस्त की 25 फीसदी राशि 31 मार्च 2017 तक दी जा सकेगी। तीसरी किस्त के लिए अंतिम तिथि 30 सितंबर 2017 रखी गई है।

इस योजना में सरकार को उम्मीद थी कि छुपा हुआ काला धन सामने आएगा और उम्मीद से कम ही सही लेकिन काला धन का खुलासा हुआ है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement