इन खास तरीकों से रोक सकते हैं प्रेग्नेंसी, ‘कंडोम’ की जरूरत नहीं

Updated on 31 Mar, 2018 at 12:08 pm

इंसान गलतियों का पुतला है। यह बात अक्सर कही जाती है। यह सच भी है, क्योंकि भावनाओं में बहना इंसानी फितरत है और इसके अपने फायदे और नुकसान हैं। हालांकि, कई बार देखने को मिलता है कि फायदा कम और नुकसान अधिक है।

सेक्स पर भी यही बात लागू होती है। कई बार पति-पत्नी भावनाओं में बहकर असुरक्षित संबंध बनाते हैं और इसका खामियाजा उन्हें अनचाही प्रेग्नेंसी के रूप में उठाना पड़ता है। इसकी वजह है उनका मानसिक रूप से तैयार न होना।

समाज में धारणा व्याप्त है कि एकमात्र कंडोम या निरोध ही है, जिससे अनचाही प्रेग्नेंसी को रोका जा सकता है। हालांकि, यह धारणा गलत है। हम आपके लिए कुछ ऐसी टिप्स लेकर हाजिर हुए हैं, जिनसे आपको पता चलेगा कि कंडोम के बिना भी प्रेग्नेंसी को रोका जा सकता है।

पुल आउट मैथड

 

सेक्स के आखिरी पलों में चरम पर पहुंचने से पहले खुद को अपने पार्टनर से अलग कर लेने से भी प्रेग्नेंसी को रोका जा सकता है। इसका सक्सेस रेट लगभग कंडोम जितना ही है।

 

 

पुल आउट मैथड की सफलता का औसत 83 फीसदी है, जबकि कंडोम की सफलता का औसत 84 फीसदी है।

सुरक्षित सप्ताह

 

महिलाओं के पीरियड के पहले दिन के बाद से 8वें दिन से लेकर 20वें दिन तक का समय सेक्स के लिए सुरक्षित सप्ताह माना जाता है। माना जाता है कि इन खास दिनों में सेक्स से प्रेग्नेंसी नहीं होती।

बर्थ कंट्रोल पैच

 

Birth Control Patch पैच को महिलाएं अपने शरीर पर चिपका सकती हैं। इस पैच का काम Estrogenऔर Progestin हार्मोन्स को रिलीज कर प्रेग्नेंसी को रोकना है। यह साधारण सी पैच बेहद कारगर है।

99 फीसदी तक है सक्सेस रेट

 

बर्थ कंट्रोल पैच की सफलता का औसत करीब 99 फीसदी तक है। हालांकि, इसके इस्तेमाल से पहले अपने चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

बर्थ कंट्रोल इम्प्लान्ट

 

यह डिवायस महज माचिस के तिली के बराबर होती है। इसे शरीर में इम्प्लान्ट किया जाता है। Birth Control Implant हार्मोन्स को रिलीज को कर प्रेग्नेंसी को रोकती है।

 

 

इसे महिलाएं चार साल तक इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, बर्थ कंट्रोल पैच की तरह ही इसके इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

स्पर्मीसायडस

 

आमतौर पर Spermicides का इस्तेमाल सेक्स से पहले करते हैं। इस गर्भनिरोधक का काम स्पर्म्स को अंडाणुओं तक पहुंचने से रोकना है। चिकित्सक की सलाह जरूर लें, क्योंकि इसके बिना इसका इस्तेमाल ठीक नहीं है।

IUCD मैथड

 

डॉक्टर्स IUCD को महिलाओं में इम्प्लान्ट करते हैं। यह प्रेग्नेंसी रोकने में बेहद कारगर है और बड़े पैमाने पर महिलाओं द्वारा इस्तेमाल किया जाता है।

गर्भनिरोधक गोलियां

गर्भनिरोधक गोलियां अक्सर असुरक्षित संबंधों के बाद ली जाती हैं। हालांकि, इनके इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें, क्योंकि इनके सेवन से हार्मोनल संतुलन बिगड़ सकता है।

आपके विचार