गाय के गोबर से बने बायोगैस से चलती है यह बस, महज 1 रुपए में 17 किलोमीटर का सफर

author image
Updated on 1 Apr, 2017 at 1:43 pm

Advertisement

बायोगैस से चलने वाले भारत की पहली बस सेवा कोलकाता शहर में शुरू कर दी गई है। इस बस सेवा के ऑपरेटर्स का दावा है कि यह सेवा बहुत सस्ती है और इसके जरिए महज 1 रुपए में 17 किलोमीटर का सफर तय किया जा सकता है। इस बस की सेवा का लाभ लेने वाले यात्रियों से महज एक रुपए का न्यूनतम किराया लिया जाएगा। कोलकाता में इस तरह के 16 बस चलाए जाने की योजना है।

इस सेवा को वैकल्पिक ऊर्जा के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी फोनिक्स इंडिया रिसर्च एंड डेवलपमेंट ग्रुप शरू किया है।

फोनिक्स के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक ज्योति प्रकाश दास कहते हैंः


Advertisement

“हमने तीन साल पहले नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सेंट्रल सब्सिडी प्लान के तहत यह परिकल्पना की थी, जिसे आज मूर्त रूप दिया गया। यह भारत ही नहीं, बल्कि दक्षिण-पूर्व एशिया में गोबर गैस से चलने वाली पहली बस है।”



54 सीटों वाली इस बस को अशोक लीलैन्ड ने तैयार किया है। इस पर करीब 13 लाख रुपए की लागत आई है। इसे चलाने के लिए इस्तेमाल होने वाली गोबर गैस बीरभूम जिले के दुबराजपुर स्थित कंपनी के ही प्लान्ट में तैयार किया जा रहा है। प्रति किलोग्राम गोबर गैस के उत्पादन में 20 रुपए की लागत आती है। यह बस एक कोग्राम गोबर गैस पर छह किलोमीटर तक चलती है।

कोलकाता में इस साल के अंत तक इस तरह के 16 बसों को चलाने की योजना है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement