शाही खानदान से लेकर अरबपतियों के बच्चे तक सीख रहे हैं मंदारिन

Updated on 13 Nov, 2017 at 5:12 pm

Advertisement

अपनी मातृभाषा और राष्ट्रभाषा के अतिरिक्त कोई अन्य भाषा सीखना हमेशा अच्छा ही होता है। इससे आगे चलकर हो सकता है आपके करियर में भी मदद मिले। इतना ही नहीं कोई दूसरी भाषा खाने से आपके मस्तिष्क का भी विकास होता है और व तेज़ बनता है। इन दिनों दुनिया के मशहूर और अमीर लोगों के बीच चीनी भाषा मंदारिन का क्रेज़ कुछ ज़्यादा ही बढ़ गया है, तभी तो वो अपने बच्चों को मदारिन सिखा रहे हैं। इसे सीखने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। आज हम आपको उन अरबपतियों और शाही खानदान के सदस्यों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके बच्चे मंदारिन सीख रहे हैं।

जेफ- मैकेनजी बेजोस

एमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस और उनकी पत्नी मैकेनजी के 4 बच्चे हैं और ये अपने बच्चों को बहुत से अलग-अलग विषय सिखाते रहते हैं। एक इंटरव्यू में मैकेनजी ने कहा था कि वो अपने बच्चों को सबकुछ सिखाना चाहती हैं तभी तो ऑफ सीज़न ट्रैवलिंग से लेकर वो बच्चों के साथ किचन-साइंस एक्सपेरिमेंट भी करती हैं। मैकेनजी अपने बच्चों को मंदारिन भाषा भी सिखा रही हैं।

मार्क ज़ुकरबर्ग-प्रेसिला चान

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कुछ साल पहले ही मंदारिन सीखना शुरू किया था और अब काफी हद तक सीख चुके हैं। अब इस भाषा में आधे घंटे तक का सवाल-जवाब सेशन कर सकते हैं। दरअसल, मार्क की पत्नी एक चाइनीज़ रिफ्यूज़ी की बेटी हैं। इस कपल ने अब अपनी बेटी मैक्स को भी मंदारिन सिखाना शुरू कर दिया है।

इवांका ट्रंप-जैरड कुशनर


Advertisement

अमेरिकी राष्ट्रपति इवांका ट्रंप के तीन बच्चे हैं और उन्होंने अपने बच्चों को मंदारिन सिखाने के मंदारिन बोलने वाली नैनी ही घर पर रखी है। उनकी 5 साल की बड़ी बेटी काफी हद तक यह भाषा सीख भी चुकी है। वर्ष 2017 के शुरुआत में उसने मंदारिन में हैप्पी न्यू ईयर गाना गाया था।

प्रिंस विलियम-केट मिडलटन

इस शाही जोड़े के दो बच्चे हैं और तीसरा जल्द ही आने वाला है। इनका बड़ा बेटा प्रिंस जॉर्ज 4 साल का हो चुका है और उसने स्कूल जाना भी शुरू कर दिया है। स्कूल में ही प्रिंस जॉर्ज को मंदारिन भाषा सिखाई जाएगी।

हमारे देश में लोग भले ही सिर्फ अंग्रेज़ी बोलने को ही अपनी शान समझते हों, लेकिन विदेशों में लोग चीनी भाषा के दीवाने हुए जा रहे हैं। मंदारिन उत्तर और दक्षिण-पश्चिम चीन में बड़े पैमाने पर बोली जाने वाली भाषा है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement