‘एक छोटी सी लव स्टोरी’ ने बर्बाद कर दिया था अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन का करियर

Updated on 6 Sep, 2017 at 6:51 pm

आज से 19 साल पहले अमेरिका की राजनीति में एक प्रेम कहानी ने भूचाल ला दिया था। वैसे इस प्रेम कहानी से न सिर्फ अमेरिका, बल्कि पूरी दुनिया दंग रह गई। जी हां, यह प्रेम कहानी थी अमेरिका के राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और मोनिका लेविंस्की की।

किसी ने सच ही कहा है प्यार अंधा होता है, वो उम्र, ओहदा कुछ नहीं देखता। तभी तो इतने प्रतिष्ठित पद पर बैठा शख्स भी अपने से आधी उम्र की लड़की के प्यार में पड़कर सारी मर्यादाएं भूल जाता है। बिल क्लिंटन और 22 साल की मोनिका की लव स्टोरी इतनी मशहूर हुई कि आजतक लोगों को याद है। बिल और मोनिका के सेक्स स्कैंडल ने राष्ट्रपति क्लिंटन का करियर ही खत्म कर दिया। क्लिंटन के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाया गया और उन्हें देश से माफी मांगनी पड़ी थी।

ऐसे शुरू हुई थी लव स्टोरी

1995 में मोनिका लेविंस्की व्हाइट हाउस में इंटर्न के बतौर काम करने पहुंची और कुछ ही दिनों में राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की नजरों में चढ़ गईं। शायद ये पहली नजर का प्यार था। अब तक क्लिंटन की शादी हुए 20 साल हो चुके थे और राष्ट्रपति बने 2 साल। क्लिंटन और लेविंस्की का प्यार इस कदर परवान चढ़ा कि दोनों के बीच शारीरिक संबंध भी बन गए। अपनी छवि साफ रखने के लिए क्लिंटन ने मोनिका को व्हाइट हाउस स्टाफ में रखने की सिफारिश की, ताकि इंटर्नशिप खत्म होने के बाद उनका मिलना जुलना आराम से जारी रह सके। मोनिका को जॉब भी मिला, लेकिन उसने इनकार कर दिया।

दोस्त से कही दिल की बात

मोनिका अपनी दोस्त लिंडा ट्रिप से क्लिंटन से अपने रिश्ते का जिक्र किया करती थी। लिंडा व्हाइट हाउस में ही कर्मचारी थी, जिसने मोनिका को मनाया कि वो क्लिंटन के दिए सारे गिफ्ट संभालकर रखे. क्योंकि वो राष्ट्रपति के बेशकीमती उपहार थे। लिंडा ने मोनिका के साथ बातचीत भी रिकॉर्ड करनी शुरू कर दी। जनवरी 1998 में मोनिका और बिल का रिश्ता दुनिया के सामने आ गया। मोनिका का गुनाह टेपों में मौजूद था, लेकिन मोनिका ने दुनिया के सामने इस रिश्ते से साफ इनकार कर दिया। क्लिंटन भी अनजान बने रहे। दोनों अपनी पोजीशन बचाने में लगे थे।

आखिरकार कबूल लिया रिश्ता

अमेरिकन जनता को भी यकीन नहीं था कि उनका राष्ट्रपति सेक्स स्कैंडल का हिस्सा था। इसी बीच, मोनिका ने कोर्ट में सारी बातें कबूल कर लीं। फिर बिल क्लिंटन ने भी मान लिया कि ये सच था। बिल क्लिंटन को इसकी कीमत चुकानी पड़ी। उनसे वकालत करने का उनका अधिकार छीन लिया गया और गलतबयानी के लिए 90 हजार डॉलर जुर्माना लगाया गया। उनके खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव लाया गया।

क्लिंटन के प्यार की दास्तां 2 साल के अंदर ही दुनिया के सामने आ गई और इस प्यार ने दुनिया के इस ताकतवर राष्ट्रपति से उसका रुतबा छीन लिया.

आपके विचार