बिहार में फर्जी टॉपर को जेल, कीर्ति बनी नई आर्ट्स टॉपर

author image
Updated on 28 Jun, 2016 at 1:58 pm

Advertisement

बिहार बोर्ड घोटाले में बिहार इंटरमीडिएट आर्टस की टॉपर रूबी राय की सच्चाई अब सबके सामने आ चुकी है। इसके खुलासे के बाद रूबी ने बोर्ड की विशेष परीक्षा दी थी, जिसमें वह फेल हो गई।

अब बिहार इंटरमीडिएट आर्टस की टॉपर खगडिय़ा की कीर्ति भारती बन गई हैं। कीर्ति 408 अंक प्राप्त कर बिहार बोर्ड की टॉपर बनी हैं। रिजल्ट को लेकर बिहार में जो घोटाला हुआ, उस कारण वह दूसरे पायदान पर थी।

कीर्ति को जब इसकी जानकारी मिली कि वह बिहार की टॉपर बन गई है तो उसकी ख़ुशी दोगुनी हो गई। कीर्ति नियमित रूप से दिन में आठ-आठ घंटे तक पढ़ाई किया करती थी। यह उसकी मेहनत और लगन का ही परिणाम रहा कि उसे उसका हक मिला।

कीर्ति के पिता पेशे से एक शिक्षक है। कीर्ति के पिता अपनी बेटी की ख़ास उपलब्धि पर कहते हैंः

 “मेरे नजरिये से पुत्र और पुत्री एक सामान है। बच्चे अगर गुणवान हैं, तो माता-पिता के लिए वही सबसे बड़ा धन है। कीर्ति की पढ़ाई को लेकर मैं हमेशा सजग रहता हूं। मैं खुद भी ननिहाल में रहकर नाना और मामा जी के सानिध्य में शिक्षा का गुर सीखा। उसी सानिध्य को अपनाते हुए मैंने अपने बच्चों में शिक्षा व संस्कार जागृत किया है। कीर्ति शुरू से पढ़ने में सामान्य थी। जैसे-जैसे वह आगे बढ़ती गई, पढ़ने में उसकी रूचि बढ़ती चली गई।”

महेशखूंट स्थित शारदा गिरधारी इंटरमीडिएट कॉलेज से पढ़ी कीर्ति हिंदी से आनर्स कर UPSC की तयारी करना चाहती है। उसका सपना एक IAS अफसर बनने का है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement