तो क्या बिहार का अररिया आतंकवाद का गढ़ बनने जा रहा है?

author image
Updated on 16 Mar, 2018 at 9:51 am

Advertisement

बिहार के अररिया की चर्चा है। अररिया लोकसभा की सीट पर हुए उपचुनाव में सरफराज आलम की जीत के बाद उनके समर्थकों ने भारत विरोधी नारे लगाए हैं। राष्ट्रीय जनता दल के सरफराज आलम ने इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदीप कुमार सिंह को शिकस्त दी है। इस संबंध में एक विडियो इन्टरनेट पर वायरल हो रहा है।

इस विडियो में देखा जा सकता है कि कुछ युवक अति-उत्साह में पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी कर रहे हैं। वे पाकिस्तान जिन्दाबाद और भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगा रहे हैं।

 

 

इस विडियो को वायरल होने के बाद इसका विरोध भी शुरू हो गया है। अररिया में लोग व्यापक स्तर पर सड़क पर उतर आए हैं। लोगों में आक्रोश है। तनाव बना हुआ है।

 

 

फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। इस मामले के आरोपी फरार चल रहे हैं। उनकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

बिहार में अलगाववाद समर्थक तथा आतंकवाद को प्रश्रय देने वाले तत्व लंबे समय से मौजूद रहे हैं। यह बात किसी से छुपी नहीं है कि देश बंटवारे के समय बिहार के मुसलमानों ने एक अलग देश पाकिस्तान के समर्थन में अपना मत जाहिर किया था। वहीं, हाल के दिनों में दरभंगा और मधुबनी जैसे ऐतिहासिक पृष्ठभूमि वाले इलाके आतंकवाद की जद में आ गए हैं। इन्डियन मुजाहिदीन और अलकायदा के दरभंगा और मधुबनी मॉड्युल की खासी चर्चा रही है। ये इलाके अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद के मानचित्र पर प्रमुखता से दिख रहे हैं। सवाल उठता है कि क्या अब अररिया भी आतंकवाद और भारत विरोधी क्रियाकलापों का गढ़ बनने जा रहा है?

इसी क्रम में वरिष्ठ भाजपा नेता गिरिराज सिंह आरोप लगाते हैं कि अररिया आतंकवाद का गढ़ बनने जा रहा है।


Advertisement

 

गिरिराज सिंह कहते हैंः

“अररिया बिहार का सीमावर्ती इलाका है। यह नेपाल और बंगाल से जुड़ा है। अररिया संसदीय सीट से सरफराज आलम को जीता कर वहां की जनता ने कट्टरपंथी विचारधारा को जन्म दिया है। अररिया में सरफराज की जीत बिहार के लिए ही खतरा नहीं है, बल्कि देश के लिए भी खतरा है। अररिया आतंकवादियों का गढ़ बन सकता है।”

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा था कि अगर अररिया में सरफराज आलम की जीत होती है यह इलाका कुख्यात आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट का अड्डा बन जाएगा।

अब पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भाजपा नेताओं के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

 

राबड़ी देवी का कहना हैः

“पूरे देश के आतंकवादी बीजेपी के दफ्तर में बैठे हैं। जनता ने जवाब दे दिया है, इसलिए बौखलाए हुए हैं। बिहार और उत्तर प्रदेश की जनता रास्ता दिखा रही है। वाणी को वश में रखें और अररिया की जनता से माफी मांगें। वरना 2019 में जनता माफ नहीं करेगी।”

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement