भारत में छाया भूटान का नन्हा राजकुमार, हर कोई हुआ इसके ‘क्यूटनेस’ का दीवाना

author image
Updated on 2 Nov, 2017 at 4:32 pm

Advertisement

भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक इन दिनों चार दिवसीय भारत दौरे पर हैं। उनके साथ उनकी पत्नी जेत्सुन पेमा वांगचुक और राजकुमार जिग्मे नामग्याल वांगचुक भी भारत आए हुए हैं।

भूटान का ये शाही परिवार 31 अक्टूबर को राजधानी दिल्ली पहुंचा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने खुद उनका स्वागत किया।

स्वराज ने शाही परिवार को उपहार देकर उनकी आगवानी की। इस दौरान भूटान के राजा और महारानी से ज्यादा सुर्खियों में उनके बेटे राजकुमार जिग्मे नामग्येल वांगचुक रहे।

अगले वर्ष दो साल के होने जा रहे राजकुमार को सुषमा स्वराज ने खूब दुलार किया। सुषमा स्वराज ने नन्हे राजकुमार को प्यार करते हुए उन्हे गिफ्ट भी दिया।

prince

deccanherald


Advertisement

राजकुमार की यह पहली भारत यात्रा है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज राजकुमार की अंगुली पकड़कर उन्हें एयरपोर्ट से बाहर लेकर आईं।

सुषमा के कहने पर नन्हें राजकुमार ने मीडिया कर्मियों को हाथ हिलाकर हैलो भी किया।

भारत में आते ही यह नन्हा राजकुमार सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। लोग उसे काफी पसंद कर रहे हैं।

हर कोई उनकी भोली सूरत पर फिदा हो गया है। यहां तक कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी भी खुद को नहीं रोक पाए और उन्होंने नन्हें राजकुमार को खूब दुलार किया।

पीएम मोदी ने नन्हें राजकुमार का स्वागत बड़े प्यार से हाथ जोड़कर, झुककर किया। इस पर इस नन्हे शहजादे ने भी बड़ी मासूमियत के साथ उनका अभिवादन किया।

पीएम मोदी ने राजकुमार को फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप की एक फुटबॉल और शतरंज उपहार में दिया है।

PMO की ओर से इस मुलाकात का एक विडियो भी शेयर किया गया, जिसमें पीएम मोदी नन्हे राजकुमार के साथ खेलते हुए नजर आ रहे हैं।

;

भूटान के राजा ने राष्ट्रपति कोविंद से भी मुलाकात की। नन्हें राजकुमार को देखकर वहां मौजूद सब लोगों का चेहरा खिल उठा।

राष्‍ट्रपति कोविंद ने भी राजकुमार को गिफ्ट दिया। गिफ्ट लेते हुए राजकुमार के चेहरे पर ठीक वही मुस्कान थी जो गिफ्ट मिलने पर किसी भी बच्चे के चेहरे पर आ जाती है।

विडियो में देख‍िए गिफ्ट पाकर किस तरह उत्‍साहित हो गए राजकुमार:

वाकई अपनी क्यूटनेस से भारत आये इस राजकुमार ने सबका दिल जीत लिया है। अभी वह दो साल के भी नहीं हुए हैं, लेकिन उनमें शालीनता कूट कूट कर भरी है।

prince

Twitter


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement