Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

समुद्र तल से 4500 मीटर ऊंचाई पर स्थित पांगोंग लेक है बेहद रमणीय

Published on 19 December, 2015 at 2:05 pm By

समुद्र तल से करीब 4500 मीटर ऊंचाई पर स्थित पांगोंग त्सो झील बेहद खूबसूरत और रमणीय स्थान है। हिमालय की वादियों में स्थित यह झील करीब 134 किलोमीटर लंबी है और भारत के लद्दाख होते हुए तिब्बत तक पहुंचती है।


Advertisement

इस झील का 60 फीसदी हिस्सा चीन में है और इसके नोक की चौड़ाई सिर्फ 5 किलोमीटर है। लेह से पांगोंग तक जाने में करीब 5 घंटे का समय लगता है। इस झील की खासियत यह है कि खारा पानी होने के बावजूद शीतकाल में यह झील पूरी तरह जम जाती है।



यह स्थान एक निर्जन इलाका है, इसके बावजूद यहां झील की सतह पर पहाड़ी बतख देखने को मिलते हैं। यही नहीं, यह स्थान अपनी जड़ी-बूटियों के लिए विशेषज्ञों में बेहद लोकप्रिय है। इस झील को प्रवासी पक्षियों के ठहरने के लिहाज से उपयुक्त माना जाता है।

भारत और चीन की सीमा पर स्थित इस क्षेत्र में चीन ने करीब 20 किलोमीटर के भारतीय इलाके पर अपना जबरन कब्जा जमा रखा है। यहां से चीनी बार-बार अवैध घुसपैठ को अंजाम देते रहते हैं।


Advertisement

यह स्थान फिल्म बॉलीवुड के निर्माता-निर्देशकों का पसन्दीदा रहा है। मणिरत्मन से लेकर थ्री इडियट्स तक के कुछ दृश्य यहां फिल्माए गए थे। यहां तक कि शाहरुख खान की फिल्म जब तक है जान में अनुष्का शर्मा के बीकिनी वाले दृश्य यहीं फिल्माए गए थे।

Advertisement

नई कहानियां

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग


Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Travel

नेट पर पॉप्युलर