उत्तराखंड के इस खूबसूरत हिल स्टेशन को कहते हैं मिनी स्विटजरलैंड

Updated on 21 Jun, 2018 at 11:16 am

Advertisement

उत्तराखंड का प्राकृतिक सौंदर्य पर्यटकों को हमेशा से ही अपनी ओर आकर्षित करता रहा है। यहां पहाड़ों की वादियों में बहुत से खूबसूरत हिल स्टेशन बसे हुए हैं। गर्मियों के मौसम में देश-विदेश से सैलानी उत्तराखंड की खूबसूरत पहाड़ियों में छुट्टियां बिताने आते हैं। वैसे तो इस राज्य में काफी पर्यटन स्थल है, लेकिन हम आपको आज जिस हिल स्टेशन के बारे में बताने जा रहे हैं, वो बीते कुछ सालों में इस राज्य का सबसे पसंदीदा हॉलिडे डेस्टीनेशन बनकर उभरा है।

 

 

खूबसूरत पहाड़ियों के बीचों-बीच बसी इस छोटी सी जगह का नाम है चक्राता, जिसे मिनी स्विटजरलैंड भी कहा जाता है। उत्तराखंड और हिमाचल की सीमा पर बसे इस खूबसूरत हिलस्टेश में अभी भी बहु-विवाह का प्रचलन है, जहां परिवार के सभी लड़कों का विवाह एक ही लड़की के साथ कर दिया जाता है।

 

 

हॉलिडे डेस्टीनेशन के लिहाज से ये हिल स्टेशन किसी भी अन्य हिल स्टेशन के मुकाबले बेहतर है, क्योंकि इस जगह के बारे में कम ही लोगों को पता है। पहाड़ों के बीच बसे इस हिल स्टेशन की खूबसूरती आपका मन मोह लेगी। गर्मियों के दिनों में यहां का मौसम काफी सुहाना होता जाता है। अगर आप इस जगह को हॉलिडे डेस्टीनेशन के रुप में चुनते हैं, तो यहां की कुछ चुनिंदा जगहों  पर जाना मत भूलिएगा।

टाइगर फॉल

टाइगर फॉल नाम का झरना यहां हमेशा से ही आकर्षण का केंद्र रहा है। लगभग 100 मीटर की ऊंचाई से गिरते इस झरने की खूबसूरती देखते ही बनती है। यहां तक पहुंचने के लिए आपको कच्चे और संकरे रास्तों से होकर जाना पड़ता है, लेकिन इस खूबसूरत झरने के पास पहुंचते ही आपकी सारी थकान दूर हो जाएगी।

 

देववन


Advertisement

अगर आप कैंपिंग के शौकीन  है तो चक्राता में इसका भरपूर लुत्फ उठा सकते है। यहां देववन नाम की एक जगह है, जहां पर कैंपिंग की जाती है। साथ ही रात में इस जगह पर पहाड़ों को निहारना एक अलग एहसास कराता है।

 

चिरमिरी

चक्राता मार्केट से लगभग 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित चिरमिरी नाम की जगह है, जहां शाम के समय पर्यटक सूर्यास्त  देखने के लिए जाते हैं। इस जगह से सूर्यास्त को देखना एक अनोखा एहसास है।

 

चक्राता का आर्मी कैंट 

प्राकृतिक खूबसूरती से लबरेज इस जगह पर भारतीय सेना की छावनी भी है, इसलिए यहां के कैंट इलाके की सुंदरता को करीब से जरूर देखिएगा।

 

 

देहरादून से चक्राता लगभग 95 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां वायुमार्ग और रेलमार्ग के जरिए पहुंचा जा सकता है। रेलमार्ग से आप भारत के किसी भी शहर से देहरादून पहुंच सकते हैं और फिर राज्य परिवहन की बसों के जरिए बड़ी ही आसानी से चक्राता पहुंचा जा सकता है। वहीं अगर आप हवाई मार्ग से यहां पहुंचना चाहते हैं तो देहरादून में ही जॉलीग्रांट हवाई अड्डा है, जहां से चक्राता पहुंचा जा सकता है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement