क्या ओलंपिक में वापसी करेगा क्रिकेट ?

Updated on 1 Aug, 2017 at 2:42 pm

Advertisement

क्रिकेट का खेल अपनी लोकप्रियता को लेकर ऐसे ही चर्चा के केंद्र में बना रहता है। अभी ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने की मांग को लेकर मामला गरमाया हुआ है। इसको कभी गंभीरता से नहीं लिया गया, लेकिन इस बार आईसीसी खुद इसके लिए प्रयास कर रही है।

हालांकि, ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने के मामले में दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई अड़ंगा बना हुआ है। ओलंपिक में शामिल होने में भारतीय क्रिकेट बोर्ड की मंजूरी मायने रखती है।

एक ओर जहां आईसीसी और आईओसी टी20 क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करना चाहते हैं। वहीं, बीसीसीआई इसके लिए सहमत नहीं है। बीसीसीआई नहीं चाहती कि उसकी स्वायत्ता पर कोई खतरा पैदा हो।



अगर बीसीसीआई आईओए में शामिल होता है, तो उसे अपना राजस्व बांटना होगा, जो बीसीसीआई बिल्कुल भी नहीं चाहता। आईसीसी, बीसीसीआई को राजी करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। BCCI की सहमति के बिना ICC को ओलंपिक की राह पर मुश्किल आ सकती है।

आईसीसी के पास सितंबर तक का समय है, जिसके भीतर उसे आईओसी को अपना फैसला बताना है, ताकि इसके आगे की प्रक्रिया को पूरा किया जा सके। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति ने बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने संबंधित रिपोर्ट मांगी है।


Advertisement

ज्ञात हो कि ओलंपिक में क्रिकेट का आयोजन 1990 पेरिस ओलंपिक में किया गया था। 2024 पेरिस में होने वाला ओलंपिक एक बार फिर से ओलंपिक में क्रिकेट का वापसी स्थल बन सकता है।

आपके विचार


  • Advertisement