कंबोडिया में 50 हजार बांस से बने इस पुल को देखने दूर से लोग आते हैं. जानिए क्या है खास

11:50 am 14 Aug, 2018

Advertisement

बांस का उपयोग सिर्फ शादी के पंडाल या नेताओं के मंच निर्माण में नहीं होता, बल्कि पुल बनाने में भी ये काम आता है। गांव-देहात के लोगों के लिए ये कोई नई बात नहीं है, लेकिन कंबोडिया के इस पुल के बारे में जानकर सबको हैरानी होगी। असल में ये पुल भले ही बांस की बनी है लेकिन इसकी क्षमता विशाल है। यही कारण है कि ये सुर्ख़ियों में बना हुआ है।

 

 


Advertisement

मेकोंग नदी पर बनाया गया ये पुल कंबोडियाई संस्कृति का हिस्सा बन गया है!

 

 

ये पुल कब से बनाया जा रहा है, इसकी जानकारी उपलब्ध नहीं है, लेकिन इसका डिजाइन 1986 में अद्यतित किया गया। इस बांस के बने पुल पर बड़े वाहन भी चलते हैं। जानकारी हो कि इसे बरसात के बाद 50 हजार बांस से बनाया जाता है। कामपोंग चाम प्रान्त से निकल कर कोह पेन तक जाने वाला ये पुल कंबोडिया के दो द्वीपों को जोड़ता है।

 

 



इस 3300 फिट लंबे पुल को हरेक साल बरसाल से पहले खोल कर रख लिया जाता है ताकि बांस बचा रहे। बताया जा रहा है कि फिजूलखर्ची से बचने के लिए इस तरह बांस का पुल बनाया जाता है। हालांकि, अब सरकार ने इस पुल के सामानांतर कंक्रीट का पुल बना दिया है, लेकिन पर्यटकों को लुभाने के लिए आज भी ये पुल बनाया जा रहा है। वहीं, कुछ लोग इसे संस्कृति और परम्परा से जोड़कर देखते हैं।

 

 

कंबोडिया घूमने आये दुनियाभर के लोग इस पुल को देखने अवश्य ही आते हैं। इस पुल को पार करने के लिए भुगतान भी करना पड़ता है। बता दें कि स्थानीय निवासियों को 100 रियल और विदेशी पर्यटकों को 40 गुना अधिक देना होता है। लोगों की आवाजाही को देखते हुए पुल के दोनों तरफ दुकानें लगाई गई है। विशेष बात ये हैं कि यहां दुकानें भी बांस की बनी मिलती हैं, जिसमें कंबोडियाई संस्कृति से जुड़े सामान उपलब्ध होते हैं।

 

 


Advertisement

अब पक्के पुल के बन जाने से इस पुल पर भीड़ कम देखने को मिल रही है!

आपके विचार


  • Advertisement