इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के भाई पर लगे आतंकी गतिविधियों में लिप्त होने के गंभीर आरोप

Updated on 5 Dec, 2018 at 4:22 pm

Advertisement

6 दिसंबर से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट मैचों की सीरीज़ शुरू होने जा रही है। इसी बीच पाकिस्तानी मूल के ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। क्रिकेटर उस्मान ख्वाजा के भाई अर्शकान ख्वाजा को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। अर्शकान पर आतंकी गतिविधियों में लिप्त होने के आरोप लगे हैं, जिसके चलते उसे गिरफ्तार कर किया गया है। अर्शकान पर आरोप है कि उसने एक फर्जी लिस्ट जारी की थी, जिसमें आतंकियों के निशाने पर होने वाले लोगों के नाम शामिल थे। इस लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री मैल्कन टर्नबुल का भी नाम भी था।

 

 


Advertisement

जानकारी के मुताबिक 39 साल के अर्शकान ख्वाजा को सिडनी से पकड़ा गया। पुलिस अर्शकान से पूछताछ में जुटी हुई है। जिन दस्तावेजों के आधार पर अर्शकान को देषी पाया गया है वो दस्तावेज़ अगस्त में एनएसडब्लू (न्यू साउथ वेल्स) यूनिवर्सिटी ग्राउंड से बरामद किए गए थे, इसमें आतंकी साज़िश और हिट लिस्ट शामिल थी।

 



 

अर्शकान यूनिवर्सिटी में मोहम्मद कामर निजामदेन का साथी हैं। निजामदेन को पहले ही इस मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। हालांकि, बाद में दस्तावेज़ की हैंडराइंटिंग से मिलान न होने की वजह से उसे छोड़ दिया गया था।

मंगलवार को अर्शकान को गिरफ्तार करने के बाद पैरामाटा के स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उन्हें बेल मिल गई। लेकिन अर्शकान का पासपोर्ट कोर्ट ने जमा कर लिया है।

पाकिस्तानी मूल के ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर उस्मान ख्वाजा गुरुवार से भारत के खिलाफ चार टेस्ट की सीरीज का पहला मैच खेलने उतरेंगे। उन्होंने टेस्ट करियर में अब तक 35 मैच में 2455 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 43.83 का रहा है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement