कश्मीरः सेना के कैम्प पर हिंसक भीड़ का हमला, शिविर में घुसने की कोशिश नाकाम

author image
Updated on 18 Jul, 2016 at 4:13 pm

Advertisement

जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा जिले में हिंसा पर उतारू भीड़ ने कर्फ्यू तोड़ते हुए सेना के एक कैम्प पर हमला कर दिया। उपद्रवियों ने शिविर में घुसने कि कोशिश की, जिसे नाकाम कर दिया गया है।

वहीं, केन्द्र सरकार ने अशांत घाटी में अतिरिक्त दो हजार जवानों को भेजा है।

पिछले 9 जुलाई से लगातार जारी हिंसा में अब तक कम से कम 39 लोग मारे गए हैं। जबकि 3160 लोग घायल हुए हैं। स्थानीय हिजबुल आतंकवादी सरगना बुरहान वानी के सुरक्षाबलों के साथ हुए मुठभेड़ में मारे जाने के बाद हिंसा लगातार चल रही है।

बताया गया है कि बांदीपुरा में हिंसक उपद्रवियों ने सेना के शिविर में घुसने की कोशिश की। सुरक्षा बलों को गोलियां चलाने पर मजबूर होना पड़ा। इस दौरान तीन लोग घायल हुए हैं।


Advertisement

इस बीच, लैंडलाइन टेलीफोन सेवा पर भी तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है। घाटी में मोबाइल और इन्टरनेट सेवाओं पर पहले ही पाबंदी लगा दी गई थी, लेकिन अब लैंडलाइन सेवाओं को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।



घाटी में अखबारों के छापने पर भी फिलहाल रोक है।

इस बीच, पुलवामा से मिली जानकारी के मुताबिक, पथराव कर रही भीड़ के हमले में सत्तारूढ़ पीडीपी के एक विधायक घायल हो गए। उनका नाम मोहम्मद खलील बांद बताया गया है।

इस बीच, निषेधाज्ञा को सख्ती से लागू करने के लिए घाटी में बड़ी संख्या में पुलिस एवं अर्धसैन्य बल तैनात किए गए हैं।

स्कूल एवं कॉलेज गर्मी की 17 दिनों की छुट्टियों के बाद आज फिर से खुलने थे, छुट्टियों को फिलहाल सात दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement