इस आर्मी ऑफिसर ने पासिंग आउट परेड में अपनी गर्लफ्रेंड को किया प्रपोज, तस्वीरें हुई वायरल

author image
Updated on 17 Sep, 2018 at 11:13 am

Advertisement

एक तरफ जहां सोशल मीडिया पर नकारात्मक, भ्रामक और झूठी खबरों की बाढ़ आई हुई हैवही कुछ ऐसी ख़बरे भी मिल जाती है जिसे पढ़कर निश्चित ही आपका दिन बन जाता है कुछ ऐसा ही देखने को मिला है सेना के चेन्नई में आयोजित हुए भव्य शपथ समारोह (ग्रेजुएटिंग सेरेमनी) के दौरान, जहां सेना के एक जवान ने बेहद रोमांटिक अंदाज़ में अपनी प्रेमिका को अपने मोहब्बत का इज़हार कर डाला सोशल मीडिया पर सेना के इस आर्मी ऑफिसर की प्रेम कहानी को कहती कई तस्वीरें वायरल हो रही हैं

 

कहते हैं प्यार के इजहार का लम्हा हर किसी के लिए खास होता है लोग इस लम्हे को यादगार बनाने के लिए अथक प्रयास करते हैं। ऐसा ही कुछ इस आर्मी ऑफिसर ने भी किया

 

instagram


Advertisement

 

25 साल के आर्मी ऑफिसर ठाकुर चंद्रेश सिंह ने भी कुछ ऐसा ही सोचा था मौका था परेड सेरेमनी में आर्मी ऑफीसर का ओहदा पाने का लेकिन ऑफिसर ठाकुर चंद्रेश सिंह इस दिन को और भी यादगार बनाना चाहते थे उन्होने अपनी प्रेमिका से अपने प्यार का  इज़हार किया और हमेशा के लिए उसे अपना बना लिया

 

 

आपको बता दें चंद्रेश को 8 सितंबर को चेन्नई की ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी से राजपुताना राइफल्स में ऑफिसर के ओहदे से नवाज़ा गया इसके बाद पासिंग आउट परेड में सबके सामने उन्होंने अपने घुटनों पर बैठकर दिल लुभाने वाले अंदाज में अपनी प्रेमिका धरा मेहता को शादी के लिए प्रपोज कर दिया

 

वहीं, धरा ने भी चंद्रेश के इस इजहार-ए-दिल को बिना मौका गवाए स्वीकार कर लिया चंद्रेश ने बताया कि उन्होंने इस खास दिन के लिए अपने पैरेंट्स के साथ ही धरा के पैरेंट्स को भी बुलाया था



 

 

चंद्रेश बताते हैं कि तीन साल पहले ही उन्होने अपने माता पिता को धरा की तस्वीर दिखा दी थी उन्होने अपने दिल का हाल तब ही बया कर दिया था कि इस लड़की के साथ वो जिंदगी गुजारना चाहते हैं

 

हालांकि, उनके माता-पिता ने खुद को अपने पैरों पर खड़े होने के साथ खुद को प्रूव करने की बात कही थी वही अब आर्मी में जाने के सपने के साथ अपनी मोहब्बत के साथ ज़िंदगी बिताने का दूसरा सपना भी पूरा हो गया

 

 

आर्मी ऑफिसर ठाकुर चंद्रेश सिंह और धरा मेहता की पहली मुलाकात साल 2012 में बेंगलुरू के सेंट जोसेफ कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस में हुई थी हालाँकि, दोनों के सब्जेक्ट्स अलग थे लेकिन हिंदी की क्लास एक साथ हुआ करती थी। वही से इन दोनो की दोस्ती हुई और धीरे-धीरे दोस्ती का ये रिश्ता प्यार में तब्दील हो गया


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement