अनुपम खेर FTII के चेयरमैन बने, लेकिन इससे संस्थान में क्या कुछ बदलेगा!

9:38 pm 11 Oct, 2017

Advertisement

महाभारत में युद्धिष्ठिर का किरदार निभाकर फेमस हुए गजेन्द्र चौहान 2015 में  FTII के चेयरमैन बनते ही विवादों में घिर गए थे। छात्रों ने उनकी नियुक्ति का विरोध किया था और अनुपम खेर ने उनका साथ भी दिया था।

अब अनुपम खेर FTII के नए चेयरमैन बने हैं।

amarujala.com


Advertisement

अनुपम खेर की पत्नी और बीजेपी सांसद किरण खेर ने खुशी जताते हुए कहाः

“मुझे अनुपम खेर पर बहुत गर्व है। वह अच्छे से इस भूमिका को निभाएंगे। मैं सरकार और मोदी जी का आभार जताती हूं। ये बहुत जिम्मेदारी का काम होता है। किसी भी संस्था के अध्यक्ष की कुर्सी कांटों के ताज के समान होती है।”



FTII के पूर्व चेयरमैन गजेंद्र चौहान ने अनुपम खेर की नियुक्ति पर खुशी जाहिर की है।

FTII में हालिया विवाद को देखते हुए कहा जा सकता है कि यहां आमूल परिवर्तन की जरूरत है। इस संस्थान के बारे में समग्र रूप से यही राय है कि यहां के छात्र पढ़ाई कम और राजनीति अधिक करते हैं, जैसा कि गजेन्द्र चौहान के कार्यकाल में दिखा। लिहाजा अनुपम खेर के लिए यहां की शिक्षण संस्कृति को बदलना और सकारात्मक माहौल बनाने को लेकर बड़ी चुनौती होगी।

अनुपम खेर एक मंझे हुए अभिनेता हैं।  वह 500 से ज्यादा फिल्मों और कई नाटकों में काम कर चुके हैं। उन्हें 5 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड मिल चुका है।अब देखना यह है कि संस्थान में बदलाव के लिए वह क्या कुछ कर सकते हैं।

केन्द्र सरकार अनेक महकमों में फेरबदल के पक्ष में दिख रही है। नतीजतन सरकार ने सेंसर बोर्ड के चेयरमैन पहलाज निहलानी को हटाकर प्रसून जोशी को जिम्मेदारी सौंपी है। निहलानी भी लंबे समय से विवादों में बने हुए थे।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement