‘बांग्लादेश की सीमा पर स्थित मदरसे देश में फैला रहे हैं जिहादी गतिविधियां’

author image
Updated on 5 Jun, 2016 at 8:32 pm

Advertisement

पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया है कि भारत-बांग्लादेश की सीमा पर स्थित मदरसे देश-विरोधी गतिविधियों के केन्द्र हैं। उन्होंने मांग की है कि भारत-बांग्लादेश की सीमा को तुरंत सील किए जाने की जरूरत है।

दिलीप घोष ने कहा है कि इन मदरसों को विदेशों से पैसा मिल रहा है। इसकी वजह से मवेशियों का गैर-कानूनी व्यापार और तस्करी को बढ़ावा मिल रहा है।

दिलीप घोष ने अपने दावे को सही करार देने के लिए पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य के उस बयान का हवाला दिया, जिसमें उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि भारत-बांग्लादेश की सीमा पर बने मदरसे देश विरोधी कट्टरपंथी विचारधारा को पोषित कर रहे हैं।

घोष का दावा है कि बुद्धदेव ने यह बयान हालांकि पार्टी के दबाव की वजह से वापस ले लिया था। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के बयान को हल्के में नहीं लिया जा सकता है।



दिलीप घोष ने कहा कि देश-विरोधी ताकतें देश में घुसने के लिए ये रास्ता चुन रही हैं।

Bd


Advertisement

गौरतलब है कि दिलीप घोष इस बार खडगपुर सदर विधानसभा क्षेत्र से विधायक बने हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता घोष को पिछले दिसम्बर में ही प्रदेश भाजपा की कमान दी गई है।

घोष ने इससे पहले कहा था कि देश विरोधी ताकतें जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, जादवपुर विश्वविद्यालय और हैदराबद विश्वविद्यालय के माध्यम से पूरे देश में देशविरोधी विचार फैला रहे हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement