बांग्लादेश में हिन्दू पुजारी की नृशंस हत्या, दहशत में है हिन्दू समुदाय

author image
Updated on 1 Jul, 2016 at 11:36 am

Advertisement

बांग्लादेश में अल्पसंख्यक हिन्दुओं पर हमले लगातार जारी हैं। इसी कड़ी में इस्लामिक जिहादियों ने एक हिन्दू पुजारी की मंदिर के बाहर नृशंस हत्या कर दी।

यह घटना राजधानी ढाका से करीब तीन सौ किलोमीटर दूर दक्षिण-पश्चिम में स्थित झिनयीदाह जिला मुख्यालय के पास हुई है।

बताया गया है कि 45 वर्षीय श्यामानंद दास जब मंदिर में पूजा के लिए जा रहे थे, तभी मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवकों ने उन पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया और उनकी हत्या कर दी।

बांग्लादेश में हाल के दिनों में मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा हिन्दुओं पर हमले की घटनाएं बढ़ी हैं। 16 करोड़ की आबादी वाले मुस्लिम बहुल इस देश में हिन्दू अल्पसंख्यक हैं।


Advertisement

वर्ष 1947 बांग्लादेश में हिन्दुओं की आबादी वहां की कुल जनसंख्या का 30 फीसदी था। अब यहां सिर्फ 7 फीसदी हिन्दू रह गए हैं।

झिनयीदाह जिला प्रशासन के प्रमुख महबूबुर रहमान ने इस घटना की जानकादी दी है, लेकिन उन्होंने हत्या के कारण के बारे में नहीं बताया। न ही इस मामले में अब तक किसी को गिरफ्तार किया गया है।

वैसे रहमान ने इस बात की पुष्टि की है कि हमले की प्रकृति स्थानीय आतंकवादियों से मिलती-जुलती है।

हिन्दुओं और अन्य धर्मनिरपेक्ष ब्लॉगरों की हत्या की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है, लेकिन सरकार ने इस बात का खंडन किया है।

बांग्लादेश में हिन्दू समुदाय के ऊपर हो रहे आतंकवादी हमलों के खिलाफ कोलकाता में रैलियों और प्रदर्शन का आयोजन किया गया था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement