स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी से कहीं ज़्यादा ऊंची होगी ये इमारत, देश के इस राज्य में होगा निर्माण

Updated on 24 Nov, 2018 at 1:34 pm

Advertisement

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया था, जिसे स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी नाम दिया गया। ये दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है। अब भारत में ही एक इमारत बनने जा रही है जिसकी ऊंचाई स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी से भी कहीं ज़्यादा होगी।

आपको बता दें स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी को टक्कर देने वाली ये इमारत बनेगी आंध्र प्रदेश में बनेगी।आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू अमरावती में आंध्र प्रदेश विधानसभा की बिल्डिंग बनवाने जा रहे हैं जिसकी ऊंचाई विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमास्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी से 68 मीटर ज़्यादा होगी। ये इमारत अपने निर्माण के साथ ही देश की सबसे ऊंची इमारत होगी।

 

आंध्र प्रदेश विधान सभा इमारत (andra pradesh new assembly building)

crda


Advertisement

 

खबरों की माने तो नायडू ने नई विधानसभा का डिज़ाइन फाइनल कर लिया है। इसमें कुछ छोटे बदलाव करके इसका ब्लूप्रिंट राज्य सरकार यूके बेस्ड नॉर्मा फॉस्टर्स ऑर्कीटेक्ट्स को देगी, जो विधानसभा की नई इमारत बनाने वाली है। ये इमारत तीन मंजिला होगी और इसमें एक 250 मीटर ऊंचा आसमान छूता टॉवर लगाया जाएगा।

 

आंध्र प्रदेश विधानसभा की नई इमारत का डिज़ाइन भी बहुत खास होगा। खबर है इमारत का ढांचा किसी उल्टे लिली के फूल जैसा लगेगा। सरकार इसके लिए नवंबर में टेंडर निकालेगी और पूरी प्रक्रिया दो साल में पूरी होने की उम्मीद है। इस इमारत में दो गैलरी होंगी, एक की लंबाई 80 मीटर होगी तो दूसरी की लंबाई 250 मीटर होगी। इस गैलरी से अमरावती शहर की झलक दिखेगी।

 



 

लगता है अब ये प्रतिमाएं राजनीतिक रोटियां सेंकने का नया हथियार बन गई हैं। हाल में ही स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी के उद्घाटन के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या में भगवान राम की ऊंची प्रतिमा बनाने की बात कर चुके हैं। इसके अलावा कर्नाटक सरकार भी मां कावेरी की 125 फीट ऊंची प्रतिमा लगाने की तैयारी में है।

 

 

लगता है एक-दूसरे की देखादेखी में अब हर राज्य में ऊंची प्रतिमाएं बनाने का चलन शुरू हो जाएगा, लेकिन इन नेताओं को कौन समझाएं बेजान मूर्ति और इमारतों पर करोड़ों खर्च करने की बजाय उन पैसों से जनता की भलाई का कोई काम कर देते तो देश का भी भला हो।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement