वायुसेना के लापता हुए AN-32 विमान के बारे में ये 9 बातें आपको शायद ही पता होंगी

author image
Updated on 23 Jul, 2016 at 3:07 pm

Advertisement

Advertisement

बंगाल की खाड़ी में लापता हुए वायु सेना का AN-32 विमान सबसे भरोरेमंद विमानों में शामिल है। यहां हम इस विमान के बारे में कुछ ऐसी जानकारियां दे रहे हैं, जिनके बारे में आपको शायद ही पता हो।

1. इस विमान का पूरा नाम ऐंटोनोव-32 है। यह रूस निर्मित टर्बोप्रॉप मिलिट्री ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट है। इसमें दो इंजन होते हैं।

2. AN-32 विमान AN-26 का अपग्रेडेड वर्जन है।

3. इन विमानों को इंदिरा गांधी के शासनकाल में भारतीय वायु सेना में शामिल किया गया था।

4. 1976 में पहली बार बने इस विमान की कीमत 15 मिलियन डॉलर है।

5. इस विमान की खासियत है कि यह 55°C से भी अधिक के तापमान में ‘टेक ऑफ’ कर सकता है और 14, 800 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरने में सक्षम है।

6. इसमें अधिकतम 50 लोग सवार हो सकते हैं।

7. भारतीय वायुसेना के बेड़े में इस वक्त करीब 100 AN-32 विमान हैं, जो मुख्य तौर पर ट्रांसपोर्ट के काम में लगे हैं।

8. AN-32 विमान के अपग्रेड प्रोग्राम को लेकर दिक्कतें सामने आईं हैं।

9. यह विमान पहले भी हादसे का शिकार हो चुका है। वर्ष 2009 में अरुणाचल में भी यह विमान हादसे का शि‍कार हुआ था, जब इस विमान में सवार 13 लोग मारे गए थे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement