आखिरकार अमिताभ बच्चन ने दिया तनुश्री दत्ता का साथ!

author image
4:48 pm 11 Oct, 2018

Advertisement

आज बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन अपना 76वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनके फैंस से लेकर फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोग उन्हें विश कर रहे हैं। इस बीच अमिताभ बच्चन ने सोशल मीडिया पर उनके जन्मदिन के एक दिन पहले सेक्सुअल हैरेसमेंट को लेकर अपनी बात रखी है। देश में #MeToo के तहत कई महिलाओं ने नामी-गिरामी हस्तियों पर आरोप लगाए हैं। बॉलीवुड जगत से जुड़े कई सितारे भी अब खुलकर इस पर अपनी बात रख रहे हैं।

 

 


Advertisement

फ़िल्म ‘ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान’ के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर जब अमिताभ से तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर मामले पर सवाल किया गया था तो उन्होंने पल्ला झाड़ते हुए जवाब दिया था न तो वो तनुश्री हैं और न ही नाना। वो कैसे इसका जवाब दे सकते हैं। उनके इस रूख के बाद उनकी काफ़ी आलोचना भी हुई थी। खुद तनुश्री ने अमिताभ बच्चन को लेकर कहा था, “कुछ बड़े स्टार्स सामाजिक मुद्दों पर फ़िल्म बनाते हैं। फ़िल्म रिलीज़ से पहले महिला सुरक्षा की बात करते हैं, लेकिन जब सच में बोलने का मौका मिलता है तो नहीं बोलते।”

 



 

अब आखिरकार अमिताभ बच्चन ने भी #MeToo का सपोर्ट करते हुए अपनी बात रखी है। अपने जन्‍मदिन के मौके अमिताभ बच्‍चन ने फेसबुक पर इस विवाद से जुड़ा एक इंटरव्‍यू पोस्‍ट किया है। इसमें उनसे पूछा गया कि वो फ़िल्मों ओर वर्कप्लेस पर महिलाओं की सुरक्षा की समस्या को कैसे देखते हैं? इसका जवाब देते हुए अमिताभ बच्चन ने लिखा-

 

“किसी भी महिला के साथ किसी भी जगह दुर्व्यवहार नहीं होना चाहिए, खासतौर पर उस जगह जहां वो काम करती हो। अगर किसी महिला के साथ वर्कप्लेस पर ऐसा कुछ होता है तो इस मामले को तुरंत आला-अधिकारियों के संज्ञान में लाया जाना चाहिए। उस पर उचित कार्रवाई की जानी चाहिए चाहे वो उस शख्स के खिलाफ़ शिकायत हो या फिर कानूनी कार्रवाई। शिक्षा के बेहद शुरुआती स्तर पर इन बातों को समझाया जाना चाहिए। हमारे समाज में सबसे पहले बच्चे, महिलाएं और कमज़ोर वर्ग ही निशाना बनाए जाते हैं। उन्हें अलग से और अधिक सुरक्षा दिए जाने की ज़रूरत है। अगर हम महिलाओं को सुरक्षा और सम्मान नहीं दे पा रहे हैं तो ये एक ऐसी कमी होगी जिसे किसी भी सूरत में पूरा नहीं किया जा सकेगा।”

 

अब अमिताभ बच्चन ने इस मुद्दे पर अपनी राय तो रखी है लेकिन फ़िल्म इंडस्ट्री के इस महान आइकॉन से इतनी लेटलतीफ़ी होना सही बात नहीं है। माना कि आप तनुश्री दत्ता नहीं और न ही नाना पाटेकर, लेकिन इस फ़िल्म इंडस्ट्री से आप जुड़े हैं, तो इस मुद्दे पर आपकी बात भी मायने रखती है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement