भारत जैसी चाय का स्वाद अमेरिका में नहीं मिला तो इस महिला ने वहीं खोल लिया चाय का बिजनेस

author image
Updated on 30 Mar, 2018 at 1:07 pm

Advertisement

हमारे देश में सुबह की शुरुआत चाय की चुस्की के बगैर अधूरी है। जब तक गर्मा-गरम चाय की प्याली नहीं मिल जाती, तब तक मन उखड़ा-उखड़ा सा लगता है। भारत में आधी से ज्यादा आबादी चाय की दीवानी है। यहां आपको सड़क किनारे, ऑफिस के बाहर, कॉलेज के आस-पास चाय के स्टॉल देखने को मिल जाएंगे।

 

 

भारत में चाय बेचने वालों के लखपति बनने की खबरें आपने जरूर सुनी होंगी, लेकिन कोई चाय बेचकर करोड़पति  बन गया हो,ऐसा यकीनन आपने नहीं सुना होगा।

 

दरअसल, अमेरिका की एक महिला चाय बेचकर ही करोड़पति बन गई है। ब्रुक एडी नाम की इस महिला ने चाय बेचकर करीब 200 करोड़ की संपत्ति बना ली है। एडी को चाय का आइडिया भारत से ही मिला था।

 

 

एडी 2002 में भारत आईं थी। अपनी इस भारत यात्रा के दौरान उनकी जुबान पर चाय का स्वाद ऐसा चढ़ गया कि वापस अमेरिका आपने पर उन्होंने कई कैफों की चाय पी, लेकिन उन्हें भारत जैसा स्वाद कहीं नहीं मिला। वह अपने घर कोलोराडो में भारत की चाय के स्वाद के लिए तरस गईं।

 

 

इसके बाद एडी ने खुद ही चाय का बिजनेस करने की ठान ली और 2007 में ‘भक्ति चाय’ नाम से चाय का बिज़नेस शुरू कर दिया। इस बिजनेस की शुरुआत किसी दुकान से नहीं, बल्कि कार की डिग्गी से हुई। उन्होंने अपनी कार में ही चाय बेचनी शुरू कर दी।

 


Advertisement

कुछ ही दिनों में भक्ति चाय का स्वाद अमेरिका के लोगों के जुबान पर चढ़ने लगा। जो चाय कार की डिग्गी में रखकर बेचीं जाती थी अब वह कोलोराडो की कॉफ़ी की दुकानों और कैफे में लोगों को सर्व होने लगी।

 

 

View this post on Instagram

Spice up your weekend 💃

A post shared by Bhakti Chai (@bhaktifans) on

 

इसी तरह उनकी चाय फेमस हो गई और एडी ने बढ़ते कारोबार को देखते हुए अपनी वेबसाइट भी लॉन्च कर दी। अब एडी के पास करीब 200 करोड़ रुपए की संपत्ति है।

 

 

इतना पैसा कमाने के बाद ब्रुक एडी भारत को नहीं भूली है। उनके दिल में भारत के लिए सम्मान और प्यार है। अपने एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा-

 

“मैं एक व्हाइट गर्ल हूं और अमेरिका के कोलोराडो में पैदा हुई हूं। मेरे मन में भारत के लिए कुछ होना नहीं चाहिए, लेकिन मेरे मन में प्यार है। मुझे वहां के लोगों की विभिन्नता काफी पसंद है। मैं जब भी वहां जाती हूं मुझे कुछ ना कुछ नया देखने को मिलता है।”

 

 

आज एडी जिस मुकाम पर है वह उसका श्रेय भारत को भी देती है क्योंकि यहीं से उन्हें  चाय का आइडिया मिला। उन्होंने अपने इस प्रोडक्ट के बिजनेस को बढ़ाने के लिए अपनी फुल टाइम जॉब भी छोड़ दी। 2014 में ब्रुक एडी का नाम  एंटरप्रेन्योर मैगज़ीन के ‘एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड में टॉप 5 में  शामिल था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement