अमेरिका ने रोकी 30 करोड़ डॉलर की सैन्य मदद, पाकिस्तान को दिया झटका

author image
Updated on 4 Aug, 2016 at 2:30 pm

Advertisement

अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की सैन्य मदद रोकी दी है।

बताया गया है कि अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने कांग्रेस को इस बात का प्रमाण पत्र देने से इन्कार कर दिया कि पाकिस्तान खूंखार आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई कर रहा है।

पाकिस्तान को यह मदद अफगानिस्तान में अमेरिकी अभियानों में सहयोग के एवज में मिलती रही है। इस मद में पाकिस्तान अब तक अमेरिका से 70 करोड़ डॉलर की मदद ले चुका है।

इस बारे में पेंटागन के प्रवक्ता एडम स्टम्प ने कहाः

“इस बार पाकिस्तान की सरकार को कोष (30 करोड़ डॉलर) जारी नहीं किया जा सका, क्योंकि रक्षा मंत्री ने अब तक इस बात को प्रमाणित नहीं किया है कि पाकिस्तान ने वित्तीय वर्ष 2015 राष्ट्रीय रक्षा प्राधिकार कानून (एनडीएए) के अनुरूप पर्याप्त कदम उठाए हैं।”


Advertisement

बताया गया है कि वित्तीय वर्ष 2015 में पाकिस्तान के लिए एक अरब डॉलर मंजूर किए गए थे. इसमें से वह 70 करोड़ डॉलर ले चुका है।

कांग्रेस के इस फैसले के बाद हालांकि अमेरिका ने कहा है कि इस फैसले से पाकिस्तानी सेना के त्याग का महत्व कम नहीं होगा।

पेंटागन के प्रवक्ता सटम्प ने कहा है कि पाकिस्तान को ये 35 करोड़ डॉलर तभी दिए जा सकते हैं, जब रक्षा मंत्री यह प्रमाणपत्र देंगे कि पाकिस्तान ने हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई की है।

वर्ष 2002 से लेकर अबतक के समय में यह पहली बार है जब पाकिस्तान को सैन्य मदद के लिए अमेरिकी रक्षा मंत्री के प्रमाणपत्र की जरूरत पड़ी है। वर्ष 2002 से पाकिस्तान को लगभग 14 अरब डॉलर मिल चुके हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तान सीएसएफ अदायगी के तहत सबसे बड़ा प्राप्तकर्ता है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement