टॉयलेट की गंदगी हवा में फैलाई तो एयरलाइन्स पर लगेगा जुर्माना

author image
Updated on 21 Dec, 2016 at 6:01 pm

Advertisement

अगर किसी विमान का हवा में टॉयलेट टैंक हवा में खाली किया जाता है तो उस पर जुर्माना ठोंका जा सकता है। यह कहना है नैशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल (NGT) का। NGT ने DGCA को एक सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि जिस किसी भी एयरलाइन कंपनी के हवाई जहाज हवा में टॉयलेट टैंक खाली कर पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते हैं, उन पर 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाए। यह आदेश NGT के अध्यक्ष स्वतंत्र कुमार की अगुवाई में रिटायर्ड आर्मी ऑफिसर की याचिका पर सुनवाई करते हुए जारी किया गया है।

याचिका में सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी ने कहा था कि विमानों के हवा में टॉइलट टैंक खाली करने से इंदिरा गांधी इंटरनैशल एयरपोर्ट के आसपास के आवासीय इलाकों में गंदगी फैल जाती है।

सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी के घर से मिले सैम्पल की छानबीन की गई थी। इसके बाद पता चला था कि यह मलोत्सर्ग ही है। हालांकि, यह कहां से आया इसके बारे में पता नहीं चल सका था।



NGT के बेन्च ने DGCA से कहा है कि वह सेंट्रल पलूशन कंट्रोल बोर्ड (CPCB) के समक्ष प्रत्येक तीन महीने में अपनी रिपोर्ट जमा करे। इस संबंध में DGCA को एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी करने को कहा गया है ताकि जिन लोगों को परेशानी है वे अपनी रिपोर्ट दर्ज करा सकें।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement