इस फोन से मौत का फरमान सुनाता था हिटलर, 1.6 करोड़ में नीलाम

author image
Updated on 20 Feb, 2017 at 12:48 pm

Advertisement

जर्मनी के तानाशाह हिटलर के उस कुख्यात फोन की नीलामी हो गई है, जिससे वह कथित तौर पर मौत का फरमान सुनाया करता था। इस फोन के नीलामी का आयोजन अमेरिका के चेस्पीक सिटी में किया गया था।

यह फोन 1.6 करोड़ रुपए में बिका है।

इस ऐतिहासिक फोन की नीलामी शुरू हुई थी 67 लाख रुपए से। माना जा रहा है कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान हिटलर ने इस फोन का इस्तेमाल किया था। लाल रंग के इस फोन को नाजी सिम्बॉल भी माना जाता रहा है।

इसके पीछे हिटलर का नाम खुदा है, साथ ही स्वास्तिक का निशान भी।

यह फोन बर्लिन में मौजूद हिटलर के बंकर से 1945 में सोवियत संघ के सैनिकों को मिला था।


Advertisement

ऑक्सन हाउस के अधिकारी बिल पैनागोपुलस के मुताबिक, हिटलर ने द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान इस फोन को नरसंहार के लिए हथियार के रूप में इस्तेमाल किया था। उन्होंने कहा कि युद्ध में हिटलर इसी फोन से अपने सैनिकों को लोगों को मौत के घाट उतारने का आदेश देता था।

गौरतलब है कि नाजी पार्टी के नेता हिटलर का जन्म 20 अप्रैल 1889 को आस्ट्रिया में हुआ था। बताया जाता है कि जिस स्थान पर हिटलर का जन्म हुआ, वह एक गेस्ट हाउस था, जहां उसके माता-पिता ठहरे थे। हालांकि, कुछ ही हफ्तों के बाद हिटलर का परिवार दूसरे जगह शिफ्ट हो गया।

जर्मनी में हिटलर के सत्ता में आने के बाद नाजी पार्टी ने इस बिल्डिंग को अधिकृत कर लिया गया। जिसमें आम लोगों के लिए कल्चरल सेंटर गैलरी और पब्लिक लाइब्रेरी खोला गया।

हालांकि, द्वितीय विश्व युद्ध के बाद एक बार फिर इस मकान को इसके पुराने मालिक को लौटा दिया गया था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement