न्यूयॉर्क फैशन वीक में रैंप पर उतरी भारत की एसिड अटैक पीड़िता

author image
Updated on 9 Sep, 2016 at 9:35 pm

Advertisement

अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए तेजाब हमले की पीड़ित रेशमा कुरैशी ने न्यूयॉर्क के फैशन वीक में हिस्सा लिया और रैंप पर भी चली। 19 साल की रेशमा जब रैंप पर उतरीं तो चारों तरफ तालियों की गूंज थी।

इससे पहले भी रेशमा कई कार्यक्रमों में अपनी उपस्तिथि दर्ज करा चुकी हैं, लेकिन यह पहला ऐसा मौका है जब रेशमा किसी अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उतरी हैं। इसके साथ ही रेशमा भारत की ओर से फैशन वीक में हिस्सा लेने वाली पहली डिसेबल्ड मॉडल बन गईं।

रेशमा के चेहरे पर एसिड किसी गैर ने नहीं, बल्क‍ि अपनों ने ही फेंका था। वर्ष 2014 में रेशमा के बहनोई और उनके दोस्तों ने ही उसके चेहरे पर एसिड फेंका था। यह घटना इलाहाबाद में हुई थी। उस वक्त रेशमा 17 साल की थी।

reshma

hindustantimes


Advertisement

रेशमा का इस शो में हिस्सा लेने का मकसद महिलाओं के ऊपर फेंके जाने वाले खतरनाक पदार्थों को प्रतिबंधित करने की मांग को प्रमुखता से सामने लाना है।

‘खूबसूरती का ताल्लुक त्वचा से नहीं होता है’ अपने इस सन्देश के साथ रेशमा ने कहाः



“आपको किसी किताब को उसके कवर से नहीं आंकना चाहिए। मैं दुनिया से ये कहना चाहती हूं कि हमें रोशनी में देखें। हम भी सामान्य लोगों की तरह काम कर सकते हैं।”

अपने इस कदम के जरिए रेशमा का इरादा एसिड हमलों की शिकार महिलाओं में आत्मविश्वास जगाना भी है, ताकि ऐसी महिलाएं खुद को कमजोर महसूस न करें और अपनी जिंदगी में सकारात्मक सोच रखते हुए आगे बढ़े।

जब रैंप पर उतरी रेशमा, यहां देखिए विडियो:


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement