Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

पकड़ा गया लश्कर सरगना हाफिज सईद का करीबी अब्दुल कयूम

Published on 24 September, 2016 at 12:57 pm By

लश्कर-ए-तोएबा व जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठनों के सरगना हाफिज सईद का करीबी अब्दुल कयूम पकड़ा गया है। कयूम को शुक्रवार तड़के गिरफ्तार किया गया। वह सीमा पार करते वक्त बीएसएफ के हत्थे चढ़ गया। हालांकि उसके पास कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है।

सुरक्षा बलों की पूछताछ में कयूम ने स्वीकार किया है कि वह लश्कर-ए-तोएबा के आतंकवादी सरगना हाफिज सईद का पीएसओ रहा है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, कयूम ने पूछताछ में कहा है कि वह अब आतंकवाद से तंग आ चुका है। उसने कहा कि आतंकी संगठनों के नेताओं के बच्चे विदेशों में पढ़ते हैं। हमारे बच्चों का कोई भविष्य नहीं है। यही बात कश्मीर की जनता को समझाने आया हूं।



कयूम ने माना है कि उसे लश्कर-ए-तोएबा से वर्ष 2004 में प्रशिक्षण मिल चुका है। वह न केवल लश्कर की मैगजीन के लिए लिखता था, बल्कि उसके लिए फंडिंग का काम भी करता था।

कयूम ने स्वीकार किया कि हाफिज सईद के अलावा सलाहुदीन को भी वह अच्छी तरह से जानता है। सईद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारूक, यासीन मलिक के बारे में भी उसे पूरी जानकारी है।


Advertisement

गौरतलब है कि कश्मीर के उरी में सेना कैम्प पर हुए आतंकवादी हमले में 18 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। इन हमलों के बाद सुरक्षा कड़ी की गई है। कश्मीर में अलर्ट है और अब तक दो पाकिस्तानी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया है।

Advertisement

नई कहानियां

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं


नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं

नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं


मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक

मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक


PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!

PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!


अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?

अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर